• दीपावली पर थोडा बहुत सफाई तो हो गयी है
  • ये तो अभी  मकड़ी के जालभर हुए हैं साफ़

देवभूमि मीडिया ब्यूरो

देहरादून : भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश संगठन महामंत्री को दिल्ली से हटाये जाने की खबर क्या आयी उत्तराखंड मूल के भाजपा कार्यकर्ताओं और पूर्व पदाधिकारियों की मन चाही मुराद पूरी हो गयी , लेकिन संजय कुमार को हटाए जाने कि ख़बरों के बीच भाजपा का एक गुट सक्रिय हो गया और वह उसे बचाने की जुगत में लग गया बताया जा रहा है.  वहीं भाजपा और संघ से जुड़े पुराने कार्यकर्ताओं और पदाधिकारियों का कहना है कि दीपावली पर थोडा बहुत सफाई तो हो गयी है परन्तु अभी भी बहुत गन्दगी भारी पड़ी हुई है ये तो मकड़ी के जालभर साफ़ हुए हैं . वहीं भाजपा सहित राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ के पुराने लोगों ने बैठक कर आगामी 11 नवम्बर को इस मामले पर आगे रणनीति बनाये जाने पर विचार किया है .

वहीं भारतीय जनता पार्टी में दो-दो बार राज्यमंत्री और प्रमुख जिम्मेदारी निभाने वाले प्रकाश सुमन ध्यानी का कहना है यह राज्य महिलाओं के बलिदान और शहादत के बाद बना है लिहाजा यहाँ महिलाओं से साथ व्यभिचार और दुर्ववहार करने वालों को कदापि नहीं बख्शा जाना चाहिए . उन्होंने कहा भाजपा ने यह राज्य बनाया है लिहाजा भाजपा ऐसे लोगों को किसी भी कीमत पर प्रश्रय नहीं देगी. 

इन सब बातों के बाद अब यह बात सामने आ रही है कि आखिर भाजपा में वे कौन लोग हैं जो महिला से दुर्ववहार करने वाले पार्टी के पदाधिकारी को अब भी बचाने का ताना -बाना बुन रहे हैं . पार्टी सूत्रों के अनुसार भाजपा के ऐसे कई पदाधिकारी हैं जो महिला से दुर्व्यवहार में आरोपी को बचाने कि कोशिश में हैं . वहीं यह बात भी सामने आ रही है कि पीड़ित महिला सोमवार को आरोपी के खिलाफ सम्बंधित पुलिस थाने में मामला दर्ज करवाने को तैयार है .लेकिन पीड़ित महिला का कहना है कि उसे उत्तराखंड पुलिस पर भरोसा नहीं जिसने उसके सामने छीने गए मोबाइल की रिपोर्ट तक नहीं लिखी और मामले को हल्के में लिया .

Advertisements