आर आई के घर से 1.3 करोड़ की डकैती मामले में विजिलेंस जांच

0
285

आरआई के आय से अधिक संपत्ति समेत अन्य बिंदुओं को लेकर विजिलेंस जांच की सिफारिश

देवभूमि मीडिया ब्यूरो 

आरआई के यहां से डकैती के बाद आरोपियों ने खरीदी थी महंगी प्रॉपर्टी 

आरआई ने घटना के बाद समय से पुलिस को सूचना नहीं दी थी। आरोपियों ने घटना के बाद महंगी प्रॉपर्टी भी खरीदी। इस पर आरआई के आय से अधिक संपत्ति समेत अन्य बिंदुओं को लेकर विजिलेंस जांच की सिफारिश की गई है। इस संबंध में पुलिस मुख्यालय को पत्र लिखा गया है।
             अरुण मोहन जोशी, डीआईजी 
देहरादून : 22 सितंबर 2019 में दिल्ली के गिरोह द्वारा मैक्स हॉस्पिटल के पास रहने वाले अभिमन्यु क्रिकेट एकेडमी के मालिक आरपी ईश्वरन के घर तीन करोड़ की डकैती के मामले में पकड़े गए डकैतों से पूछताछ के बाद हुए खुलासे कि इससे पहले 26 मई 2019 की रात को वसंत विहार थाना क्षेत्र के विजय पार्क एक्सटेंशन निवासी आरटीओ के आरआई आलोक कुमार के घर बदमाशों ने डकैती डाली थी। वहीं पुलिस को सात बदमाशों ने गिरफ्तारी के बाद बयान दिया था कि वे आरआई के घर से 1.38 करोड़ कैश लेकर फरार हुए थे जबकि इस घटना की सूचना आरआई ने छिपा दी और पुलिस को घटना की जानकारी नहीं दी थी।
अब इस मामले में संभागीय निरीक्षक (आरआई) की मुश्किलें बढ़ सकती हैं। डीआईजी अरुण मोहन जोशी ने सीओ नरेंद्र पंत की रिपोर्ट के बाद विजिलेंस जांच कराने की सिफारिश की है। विजिलेंस आय से अधिक संपत्ति समेत कई अन्य बिंदुओं पर विजिलेंस जांच करेगी।
डीआईजी जोशी ने बताया कि 26 मई 2019 की रात को वसंत विहार थाना क्षेत्र के विजय पार्क एक्सटेंशन निवासी आरटीओ के आरआई आलोक कुमार के घर बदमाशों ने डकैती डाली थी। सात बदमाशों ने गिरफ्तारी के बाद बयान दिया था कि वे आरआई के घर से 1.38 करोड़ कैश लेकर फरार हुए थे जबकि इस घटना की सूचना आरआई ने पुलिस को नहीं दी थी।
वहीं घटना के प्रकाश में आ जाने के बाद और घटना के चार महीने के बाद आरआई की पत्नी रमा सिंघल ने तहरीर पुलिस को दी थी। इसमें महिला ने पांच लाख नगद और बीस लाख की ज्वेलरी ले जाने का जिक्र किया था। बदमाशों और आरआई के बयानों में विरोधाभास होने पर डीआईजी जोशी ने सीओ मसूरी नरेंद्र पंत को जांच सौंपी थी। सीओ ने प्रकरण में विजिलेंस जांच कराने का उल्लेख किया है। इस पर डीआईजी जोशी ने पुलिस मुख्यालय को पत्र भेजकर प्रकरण में विजिलेंस जांच की सिफारिश कर दी है।
गौरतलब हो कि आरआई के घर डकैती में गिरोह के सरगना विरेंद्र सिंह ठाकुर, अदनान, मान सिंह उर्फ मानू और इलियास, हैदर निवासीगण दिल्ली, पीरू निवासी चूना भट्ठा, फुरकान निवासी भगवानपुर को गिरफ्तार किया है। वर्तमान में सभी सात आरोपी देहरादून की सुद्धोवाला जेल में बंद है।