स्वच्छता सर्वेक्षण में देश भर में पहले स्थान पर आई उत्तराखंड की नंदप्रयाग नगर पंचायत

0
527

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 20 अगस्त को करेंगे नगर पंचायत को सम्मानित

जिलाधिकारी चमोली के सहयोग और नगर पंचायत अध्यक्ष की सोच से चमका नंदप्रयाग  

मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र रावत ने नगर पंचायत नंदप्रयाग के अध्यक्ष, सदस्यों और सभी कार्मिकों को दी बधाई एवं शुभकामनाएं

देवभूमि मीडिया ब्यूरो
गोपेश्वर (चमोली) : चमोली जिले की नगर पंचायत नंदप्रयाग को स्वच्छता सर्वेक्षण 2020 में देशभर में पहला स्थान मिला है। जिसे अब 20 अगस्त को प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी वर्चुअल प्लेटफाॅर्म के माध्यम से स्वच्छता सर्वेक्षण में अव्वल रहे देशभर की ऐसी सभी नगर पंचायतों को अवार्ड देकर सम्मानित करेंगे।

शहरी विकास निदेशक विनोद कुमार सुमन ने बधाई देते हुए चमोली की जिलाधिकारी चमोली स्वाति एस भदौरिया एवं नंदप्रयाग नगर पंचायत अध्यक्ष हिमानी वैष्णव को देहरादून में आयोजित पुरस्कार कार्यक्रम में प्रतिभाग करने हेतु आमंत्रित किया है। इस कार्यक्रम में प्रधानमंत्री वर्चुअल माध्यम से देशभर की नगर पंचायत को पुरस्कृत करेंगे वहीं चमोली जिले की नंदप्रयाग नगर पंचायत सहित पूरे जिले के लिए यह एक गौरवान्वित करने वाला पल होगा जब नंदप्रयाग नगर पंचायत अध्यक्ष हिमानी वैष्णव को प्रधान मंत्री के हाथों सम्मानित होने का अवसर मिलेगा। स्वच्छता पुरस्कार के लिए देश के अन्य स्वच्छ शहरी निकायों की रैकिंग भी 20 अगस्त को ही घोषित की जाएगी।
उल्लेखनीय है कि जनपद चमोली की नगर निकाय नन्दप्रयाग को आवास और शहरी कार्य मंत्रालय, भारत सरकार ने स्वच्छ सर्वेक्षण 2020 अवार्ड के लिए चुना है। नगर में स्वच्छता को लेकर अप्रैल 2019 में अखिल भारतीय स्तर पर स्वच्छता सर्वेक्षण शुरू हुआ था, जो 31 जनवरी 2020 तक चला। इसके तहत केन्द्र सरकार की टीम ने दो बार नगर का निरीक्षण भी किया था।
चमोली जिला प्रशासन की रेग्यूलर माॅनिटरिंग से जिले की सभी नगर पालिका एवं नगर पंचायतों में बेहतर ढंग से योजनाओं का क्रियान्वयन कर विकास कार्य किए जा रहे है। सभी नगर निकायों में स्ट्रीट लाईट, वाॅलपेंन्टिग, पार्को का सौन्दर्यीकरण, जैविक और अजैविक कूडे का सोर्स सेग्रीगेशन, सामुदायिक शौचालय का सुधारीकरण, साफ-सफाई सहित अनेक कार्य किए गए है। जिसमें से एक नगर पंचायत नंद्रप्रयाग को देशभर में प्रथम स्वच्छता अवार्ड मिलने जा रहा है। जो इस नगर पंचायत सहित पूरे जनपद के लिए भी बडी गर्व की बात है।
नंदप्रयाग नगर पंचायत के अधिशासी अधिकारी रघुवीर राय एवं उनकी पूरी टीम ने नगर क्षेत्र को स्वच्छ रखने के लिए व्यापक जन जागरूकता अभियान चलाकर घर-घर से जैविक और अजैविक कूड़े को अलग करने के लिए कूडेदान बांटे। नगर से करीब दो किलोमीटर दूर सोनला के निकट कूडा डंपिग जोन बनाया गया है। यहाॅ पर गीले कूडे से खाद तैयार की जा रही है। यहाॅ भूमिगत डंपिंग जोन के ऊपर ईको पार्क बनाने की योजना है। घर से ही गीला व सूखा कूडा एकत्रित किया जा रहा है। यहाॅ पर गठित स्वच्छता समिति रेग्यूलर स्वच्छता कार्यो की माॅनिटरिंग कर रही है और गंदगी करने वालो पर डबल शुल्क लेने का प्राविधान रखा गया है। नगर क्षेत्र में वाॅलपेन्टिंग तथा यहाॅ के 5 छोटे पार्को में सौन्दर्यीकरण और चारों वार्डो में आवगमन मार्गो एवं सामुदायिक शौचालयों का सुधारीकरण कराया गया है।
स्वच्छता के आनलाइन सर्वे के लिए आवास एवं शहरी मंत्रालय, केद्र सरकार ने नंदप्रयाग में स्वच्छता को लेकर आम लोगों का फीडबैक लिया था और स्वच्छता के मानकों में नंदप्रयाग नगर पंचायत को पूरी तरह से खरा पाया। अलकनंदा और नंदाकिनी नदी के संगम पर स्थित छोटी सी नगर पंचायत नंदप्रयाग में चार वार्ड मुनियाली, शकुंतलाबगड, अपर बाजार और चंडिका मोहल्ला शामिल है। वर्तमान में डा. हिमानी वैष्णव यहाॅ की नगर पंचायत अध्यक्ष है। इस नगर पंचायत की जनसंख्या भले ही 2447 है लेकिन यहां के जनप्रतिनिधियों और जनता में स्वच्छता के प्रति कितनी जागरूक है वह देशभर में मिल रहे इस सम्मान से प्रदर्शित होता है।