उत्तराखंड का बजट सत्र ग्रीष्मकालीन राजधानी गैरसैंण में आज से हो रहा है शुरू

0
337

विधानसभा सत्र के लिए मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र रावत और राज्यपाल बेबी रानी मौर्य पहुंची गैरसैंण

गुरुवार चार मार्च को मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र रावत बतौर वित्त मंत्री वर्ष 2021-22 का सदन में पेश करेंगे बजट

देवभूमि मीडिया ब्यूरो
गैरसैंण : गैरसैंण में सोमवार से उत्तराखंड विधान सभा का बजट सत्र शुरू होने जा रहा है। राज्यपाल बेबी रानी मौर्य अभिभाषण से बजट सत्र शुरू होगा। विधानसभा में अभिभाषण के लिए राज्यपाल पहुँच चुकी हैं जबकि मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र रावत सहित व कई मंत्री भी गैरसैंण पहुंच गए हैं। जिनमें नेता प्रतिपक्ष डा. इंदिरा हृदयेश, कैबिनेट मंत्री सतपाल महाराज, हरक सिंह रावत, मदन कौशिक, अरविंद पांडे, रेखा आर्य, राज्यमंत्री धन सिंह रावत के साथ ही तमाम विधायक गैरसैंण पहुंच चुके हैं। वहीं मुख्यमंत्री नैनीताल से सड़क मार्ग से गैरसैंण पहुंचे हैं। इस दौरान कुमायूं मंडल में उनका विभिन्न स्थानों पर जमकर भव्य स्वागत स्थानीय जनता ने किया।
इस बजट सत्र के पहले दिन राज्यपाल का अभिभाषण होगा। चुनावी वर्ष होने के कारण माना जा रहा है कि अभिभाषण में सरकार के नई योजनाओं की जहां झलक दिखेगी वहीं चुनावी वर्ष होने के कारण सरकार के लोकलुभावन वादे भी नज़र आएंगे। सूत्रों के अनुसार, इस साल त्रिवेंद्र रावत सरकार 56 हजार 900 करोड़ रुपये का बजट सदन में रखने जा रही है। यह बीते साल के मुकाबले करीब चार हजार करोड़ ज्यादा होगा। पिछले साल यह बजट 53 हजार करोड़ रुपये था।
ग्रीष्मकालीन राजधानी गैरसैंण में आज से आहूत होने जा रहा यह बजट सत्र दस मार्च तक चलेगा। विधानसभा सचिवालय ने गैरसैंण सत्र के लिए मंत्री-विधायकों व अफसरों को कोरोना जांच की आरटीपीसी रिपोर्ट निगेटिव अनिवार्य की है। जिनके पास 72 घंटे पूर्व की निगेटिव रिपोर्ट होगी, उन्हें ही प्रवेश की अनुमति दी जाएगी। वहीं विधानमंडप में विधायकों के बैठने की लिए दो गज दूरी का पालन भी करना होगा। अफसर व दर्शक दीर्घा में किसी अन्य व्यक्ति को प्रवेश की इजाजत नहीं होगी।
रविवार को हुई कार्य मंत्रणा बैठक में लिए गए निर्णय के अनुसार अभिभाषण खत्म होने के बाद सदन स्थगित कर दिया जाएगा। मंगलवार पूर्वाह्न 11 बजे से फिर सत्र की शुरूआत होगी। मंगलवार व बुधवार को अभिभाषण पर चर्चा होगी और गुरुवार चार मार्च को मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र रावत बतौर वित्त मंत्री की हैसियत से वर्ष 2021-22 का बजट पेश करेंगे।