छह दिसंबर को कोटद्वार, कालागढ़, पन्याली में करेंगे वन्यप्राणियों का दीदार

सड़क मार्ग से कॉर्बेट पार्क के झिरना सहित ऋषिकेश झूलापुल, गंगाघाट और गंगा मंदिर का करेंगे  भ्रमण

150 प्रतिनिधियों का शिष्टमण्डल भी भारत भ्रमण पर 

सुरक्षा सहित  जरूरी व्यवस्थाओं में जुटा जिला प्रशासन

देवभूमि मीडिया ब्यूरो 

जिला प्रशासन को मिला दो दिवसीय भ्रमण कार्यक्रम 

जिलाधिकारी नैनीताल सविन बंसल के अनुसार स्वीडन के 16वें राजा कार्ल गुस्ताव और महारानी सिल्विया का दो दिवसीय भ्रमण कार्यक्रम जिला प्रशासन को मिल चुका है।

राज्य सरकार से प्राप्त निर्देश के तहत अतिथियों के स्वागत के लिए जिला प्रशासन ने तैयारी कर ली है। संबंधित अधिकारियों को आवश्यक जिम्मेदारियां सौंपी गई हैं। अतिथियों के प्रोटोकाल के अनुरूप पर्याप्त व्यवस्थाएं कराई जा रही हैं।

देहरादून : स्वीडन के 16वें राजा कार्ल गुस्ताव और महारानी सिल्विया पांच और छह दिसंबर को एक प्रतिनिधिमंडल के साथ उत्तराखंड भ्रमण पर रहेंगे।

मुख्यमंत्री श्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत से मुख्यमंत्री आवास में भारत में स्वीडन के राजदूत श्री कलास मोलिन ( mr. Klas Molin ) ने शिष्टाचार भेंट की। उन्होंने मुख्यमंत्री को अवगत कराया कि स्वीडन के किंग कार्ल 16 गुस्ताफ तथा क्वीन सिल्वा आगामी 5 व 6 दिसम्बर को उत्तराखण्ड का भ्रमण करेंगे।

उन्होंने बताया कि स्वीडन के किंग व क्वीन ऋषिकेश में गंगा दर्शन के साथ ही सराय जगजीतपुर हरिद्वार में सीवरेज प्लांट के लोकार्पण कार्यक्रम में शामिल होंगे। इसके साथ ही उनका कार्बेट नेशनल पार्क के भ्रमण का भी कार्यक्रम है। उन्होंने बताया कि उनके साथ स्विडिस उद्यमियों एवं विभिन्न संस्थानों के 150 प्रतिनिधियों का शिष्टमण्डल भी भारत भ्रमण पर आयेगा। वे भी दिल्ली में प्रधानमंत्री सहित अन्य लोगों से भेंट करेंगे। उन्होंने उत्तराखण्ड में फार्मा आटोमोबाइल, टेलीकोम, सूचना प्रौद्योगिकी के क्षेत्र में निवेश की संभावनाओं पर भी मुख्यमंत्री से चर्चा की।
इस अवसर पर मुख्यमंत्री श्री त्रिवेन्द्र ने स्वीडन के किंग व क्वीन के प्रस्तावित उत्तराखण्ड भ्रमण के दृष्टिगत मुख्य सचिव श्री उत्पल कुमार सिंह, पुलिस महानिदेशक श्री अनिल रतूड़ी, प्रमुख वन संरक्षक श्री जयराज के साथ ही सम्बन्धित अधिकारियों से इस सम्बन्ध में विचार विमर्श कर सभी आवश्यक व्यवस्थाये सुनिश्चित करने को कहा।

इस दौरान वह ऋषिकेश झूलापुल, गंगाघाट और गंगा मंदिर का भ्रमण करेंगे। राजा गुस्ताव हरिद्वार में सराय सीवर ट्रीटमेंट प्लांट का भी निरीक्षण करेंगे जबकि महारानी इस दौरान स्वास्थ्य केंद्र का भ्रमण करेंगी।

जिला प्रशासन को मिले कार्यक्रम के मुताबिक शाही दंपति छह दिसंबर को कोटद्वार, कालागढ़ और पन्याली होते हुए सड़क मार्ग से कॉर्बेट पार्क के झिरना तक आएंगे, जहां वह वन गुज्जर बस्ती का अवलोकन करेंगे। इसी दिन वह पंतनगर से दिल्ली को रवाना होंगे। केंद्रीय प्रोटोकॉल विभाग की ओर से शाही दंपति का एयरपोर्ट पर रेड कारपेट स्वागत और नागरिक अभिनंदन किया जाएगा।

उनके स्वागत और विदाई कार्यक्रम में वरिष्ठ अधिकारियों के उपस्थित रहने और कलाकारों द्वारा सांस्कृतिक कार्यक्रम आयोजित किये जाने के निर्देश राज्य सरकार को दिए गए हैं। प्रोटोकाल सचिव पंकज पांडे ने संबंधित जिलों के जिलाधिकारियों से प्रोटोकॉल के अनुरूप व्यवस्था करने को कहा है।

शाही दंपति के आगमन को लेकर CTR  प्रशासन और स्थानीय प्रशासन तैयारियों में जुट गया है। हालांकि इस संबंध में कोई भी अधिकारी कुछ भी बताने के लिए तैयार नहीं है। जिम कॉर्बेट पार्क में बाघों की बढ़ती संख्या को देखते हुए यहां सैलानियों को तांता लगा हुआ है। इससे पहले भी यहां विदेशों से राष्ट्राध्यक्ष और प्रधानमंत्री आते रहे हैं।

Advertisements