देखें वीडियोः देश से लेकर उत्तराखंड तक के घर-घर में नौ मिनट के लिए दीयों से उजाला

0
462

कोरोना के खिलाफ संकल्प, समर्पण, समर्थन और सहयोग में समूचा देश एक नज़र आया 

देवभूमि मीडिया ब्यूरो 

देहरादून। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के आह्वान पर उत्तराखंड सहित देशभर में रात नौ बजे से नौ मिनट के लिए लोगों ने अपने घरों की बत्तियां बंद करके दीये जलाए। कुछ लोगों ने घरों पर कैंडिल और मोबाइल की फ्लैश लाइट से भी उजाला किया।

वहीं कोरोना वायरस संक्रमण को भारत से भगाने के लिए 130 करोड़ देशवासियों के साथ माननीय प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी के आह्वान पर हंस फाउंडेशन के प्रेरणास्रोत माताश्री मंगला जी एवं श्री भोले जी महाराज जी ने भी दीप प्रज्ज्वलित किए। इस उम्मीद में  की इन रोशनी की किरणों से  कोरोना वायरस जैसी घातक बीमारी हार जाएंगी।

नई दिल्ली में उपराष्ट्रपति एम वेंकैया नायडू ने अपनी पत्नी ऊषाम्मा के साथ, रात 9 बजे उपराष्ट्रपति भवन में दीप प्रज्ज्वलित किए और कोविड-19 संक्रमण के विरुद्ध अभियान में सम्मिलित हुए। वहीं से ही घड़ी में नौ बजे गढ़वाल से लेकर कुमाऊं तक लोगों ने अपने घरों की लाइट बंद कर दी और घरों और आंगन में दीये जलाए। कोई बालकनी तो कोई छत पर दीये जलाता नजर आया। उत्तराखंड के मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने परिवार के साथ घर के द्वार पर दीयों को प्रज्ज्वलित करके वातावरण में सकारात्मकता का संदेश दिया।

मुख्यमंत्री ने प्रदेशवासियों को उनके सहयोग के लिए धन्यवाद देते हुए कहा कि कोरोना वायरस से संघर्ष में इससे अवश्य ही हम सभी का उत्साह बढ़ेगा। पूरे देश ने जिस संयम और एकजुटता का परिचय दिया है, वह प्रेरणादायक है। हम अपने आत्मबल की शक्ति से कोरोना वायरस के खिलाफ लङाई में जरूर जीतेंगे। बस हमें निराश नहीं होना है, धैर्य और संयम बनाए रखना है, घर पर रहना है, सोशल डिस्टेंसिंग बनाए रखनी है और सरकारी दिशानिर्देशों का पालन करना है।

वहीं राज्यपाल बेबीरानी मौर्य, मंत्री यशपाल आर्य, मंत्री मदन कौशिक समेत विधानसभा अध्यक्ष प्रेमचंद अग्रवाल ने भी दीया जलाकर लोगों से एकजुट रहने की अपील की। चमोली के विकासखण्ड घाट मुख्यालय पर नागबगड में स्थानीय लोगो ने दीये से भारत का नक्शा बनाया। वहीं कुछ लोगोंं ने दियों के बीच में सेफ एंड स्टे होम का संदेश दिया।

इस अवसर पर उपराष्ट्रपति ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के आह्वान का उद्देश्य, हमारी एकता और साझे संकल्प से कोरोना वायरस के कारण फैली निराशा और अंधकार को दूर करना है। उन्होंने इस अवसर पर सामूहिक सम्मिलित सहयोग की अदम्य शक्ति प्रदर्शित करने के लिए नागरिकों की सराहना की। प्रधानमंत्री के आह्वान को व्यापक जन समर्थन देकर देशवासियों ने एक  बार फिर इस महामारी के विरुद्ध अपने लौह संकल्प को साबित किया है।