हरीश रावत राजनीती चमकाने के लिए कर रहे हैं बयानबाज़ी 

देवभूमि मीडिया ब्यूरो 

देहरादून । मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत के गैरसैंण को राजधानी बनाए जाने संबंधी बयान पर चुटकी लेते हुए कहा कि जब हरदा सत्ता में थे तब क्या वे सो रहे थे उस समय निर्णय लेते तो अच्छा होता अब केवल राजनीती चमकाने के लिए वे बयानबाज़ी कर रहे हैं यह सबको पता है। 

आज यहाँ सचिवालय परिसर में पत्रकारों से अनौपचारिक बातचीत में मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने कहा कि हरीश रावत की नींद काफी समय बाद खुली है। जब उन्हें मौका मिला था तभी उन्हें यह निर्णय लेना चाहिए था। वह अब केवल लाइमलाइट में आने के लिए यह बात कह रहे हैं। जब भी वह इस तरह के बयान देते हैं तो वह अपनी सरकार की नाकामियों को प्रदर्शित करते रहे हैं।

उल्लेखनीय है कि बीते रोज कांग्रेस शासन काल के दौरान विजय बहुगुणा के बाद प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत ने अपने फेसबुक पेज पर गैरसैंण को ही स्थायी राजधानी बनाने की बात अपनी पोस्ट में कही थी। उन्होंने लिखा था कि भाजपा सरकार को शीतकालीन और ग्रीष्मकालीन राजधानी का भ्रम नहीं पालना  जाना चाहिए क्योंकि यह भ्रम उत्तराखंड के लिए बहुत घातक होगा। 

भाजपा कार्यकर्ताओं को प्रशस्ति पत्र भेजे जाने संबंधी सवाल पर मुख्यमंत्री ने कहा कि भाजपा कार्यकर्ता आधारित पार्टी है। पार्टी कार्यकर्ता पार्टी व सरकार के कार्यक्रम आमजन तक पहुंचाते हैं। लोकसभा चुनावों में भाजपा ने शानदार जीत दर्ज की है। इसी लिए सभी कार्यकर्ताओं को धन्यवाद किया गया है।