आईटीबीपी में भर्ती होने के लिए पहुंचा था मृतक ITBP कैंपस 

ITBP जवानों को रिमांड पर लेने की तैयारी में पुलिस 

आईटीबीपी परिसर की झाड़ियों में मिला था मृतक का शव 

देवभूमि मीडिया ब्यूरो 

हल्द्वानी : हल्द्वानी के लालकुआं स्थित आईटीबीपी कैंपस में भर्ती होने आये युवक सूरज के शव के मिलने के मामले में पुलिस ने सोमवार को ITBP के तीन जवानों को गिरफ्तार कर दिया है। एक जानकारी के अनुसार जवानों को बहुउद्देशीय भवन हल्द्वानी से गिरफ्तारी के बाद कोर्ट में पेश कर जेल भेज दिया गया है। वहीं जवानों को अब पुलिस द्वारा रिमांड पर लेने की तैयारी की जा रही है। 

गौरतलब हो कि, बीती 18 अगस्त को आईटीबीपी में भर्ती होने के लिए हल्दूचौड़ गउ नानकमत्ता के छात्र सूरज का शव संदिग्ध हालात में आईटीबीपी परिसर की झाड़ियों में मिला था। शव में बुरी तरह कीड़े पड़ गए थे।

वहीं शव मिलने और आसपास के लोगों व हारती होने आये कुछ स्थानीय युवकों  द्वारा ह्त्या की आशंका के बाद परिजनों ने अपने पुत्र सूरज की हत्या का आरोप लगाते हुए नानकमत्ता थाने और हल्दूचौड़ में घंटों हंगामा किया। इसके बाद मामला दर्ज कर पुलिस ने जांच शुरू की। वार्ड नंबर सात अनाज मंडी नानकमत्ता निवासी ओमप्रकाश सक्सेना का बेटा सूरज सक्सेना (24) श्री गुरुनानक देव पीजी कॉलेज नानकमत्ता में एमए प्रथम वर्ष का छात्र था।

मामले में एसपी सिटी अमित श्रीवास्तव ने बताया कि पुलिस ने आईटीबीपी भर्ती बोर्ड और भर्ती में शामिल होने पहुंचे युवकों से भी पूछताछ की थी। उन्होंने बताया रविवार को आईटीबीपी भर्ती बोर्ड के 18 अधिकारियों एवं जवानों से पूछताछ की गई थी साथ ही सूरज सक्सेना के साथ मौजूद उसके दो दोस्तों को बुलाकर घटना वाले दिन विवाद कर रहे जवानों की पहचान कराई गई। पुलिस ने तफ्तीश में कई वरिष्ठ अनुभवी निरीक्षकों की भी मदद ली है गई। पूछताछ और घटना की जगह मिले सबूतों के आधार पर आईटीबीपी के तीन जवानों को हत्या के आरोप में गिरफ्तार कर लिया गया है।

एसपी सिटी ने यह भी बताया कि जांच अभी जारी है और अगर इसमें और सबूत मिलते हैं तो सूरज की हत्या में और भी गिरफ़्तारियां हो सकती हैं। ​सूरज की मौत के बाद उसे इंसाफ़ दिलाने के लिए मृतक के परिजन और स्थानीय निवासी बीते दिनों से धरना दे रहे थे।

वहीं मामले की संवेदनशीलता को देखते हुए सोमवार को नानकमत्ता के विधायक प्रेम सिंह राणा मृतक सूरज के परिजनों से मिलने पहुंचे और उन्हें विश्वास दिलाया कि दोषियों को सख़्त से सख़्त सज़ा दिलवाने की कोशिश की जाएगी। उन्होंने त्वरित कार्रवाई के लिए पुलिस का धन्यवाद किया।

Advertisements