उत्तराखंड में घुसपैठियों के लिए कोई जगह नहीं : सीएम

0
158

पार्टी में को अनुशासन तोड़ता है तो होगा उसका निलंबन

पार्टी में मीडिया ट्रायल पर नहीं होता काम पार्टी सोच समझ कर लेती है निर्णय

देवभूमि मीडिया ब्यूरो 

देहरादून। मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने कहा कि घुसपैठियों के लिए उत्तराखंड में कोई जगह नहीं है। यदि प्रदेश में कहीं कोई घुसपैठिया पकड़ा गया तो फिर उसके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।

सचिवालय में मीडिया से अनौपचारिक बातचीत करते हुए मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने कहा कि प्रदेश में बाहरी लोगों का सत्यापन किया जाता है। यह एक सतत प्रक्रिया है। शिकायत मिलने पर उनका परीक्षण किया जाता है और लोगों के दस्तावेज जांचे जाते हैं। कहीं, कोई प्रकरण सामने आते हैं तो उन पर कार्रवाई की जाएगी।

चैंपियन को पार्टी से बाहर करने के सवाल पर मुख्यमंत्री ने कहा कि पार्टी संविधान में इसकी व्यवस्था है। जो भी अनुशासन तोड़ता है तो उसे समझना चाहिए कि उसका निलंबन किया जाएगा। इसके बाद भी यदि कोई समझने को तैयार नहीं तो फिर कार्रवाई होती है।

उन्होंने कहा कि ऐसा पहली बार नहीं हुआ है। जनसंघ के समय पर भी 15 विधायकों को पार्टी से निकाला गया था। अन्य विधायकों के पार्टी लाइन से बाहर जाकर बयान देने के सवाल पर मुख्यमंत्री ने कहा कि पार्टी में मीडिया ट्रायल पर काम नहीं होता। पार्टी का अपना तरीका है, पार्टी सोच समझ कर कोई निर्णय लेती है।

मसूरी में होने वाले हिमालयी राज्यों के मुख्यमंत्रियों के सम्मेलन के सवाल पर मुख्यमंत्री ने कहा कि इसमें सभी राज्य एक दूसरे से अपनी जानकारियां साझा करेंगे। एक दूसरे की समस्याओं पर चर्चा करेंगे। नीति आयोग के समक्ष किस तरह से अपनी बातों को रखा जाए, इस बारे में भी चर्चा होगी।