– अपमानित शब्द कहने पर चैंपियन पर राजद्रोह का हो मुकदमा

– चैम्पियन पर मुकदमा दर्ज कर किया जाय गिरफ्तार 

देवभूमि मीडिया ब्यूरो 

देहरादून । उत्तराखंड क्रांति दल के निवर्तमान केंद्रीय महामंत्री जय प्रकाश उपाध्याय ने कहा कि राज्य की वर्तमान सरकार ने राज्य में आपातकाल लगा दिया है। सरकार जनहित में कार्य न कर जन-अहित को जबरदस्ती लागू कर रही है। देवभूमि में सरकार रोजगार न देकर देवभूमि की नई पहचान राम के घर से शराब का उद्गम कर नई गंगा का नाम हिलटॉप दे दिया है। 

       उक्रांद के केंद्रीय कार्यालय में पत्रकारों से बातचीत करते हुए उन्हांेने कहा कि वर्तमान सरकार हमारी धार्मिक सांस्कृतिक मान्यताओं को नष्ट कर रही है। शराब के लिए सत्ता शराब का अंगीकरण कर रही है जिससे शराब का प्रचार-प्रसार प्रत्येक नवयुवक तक शराब पहुंच जाए, यह राज्य के लिए आपातकाल जैसा है।  उत्तराखंड क्रांति दल इस आपातकाल का विरोध करेगा और राज्य में संपूर्ण शराबबंदी होने तक आंदोलन का नेतृत्व करेगा देव भूमि को शराब मुत्तफ करने के लिए व्यापक रणनीति तैयार की जा रही है प्रत्येक आंदोलनकारी और बुद्धिजीवी छात्रें और नव युवकों से इस आंदोलन में उनका समर्थन करने और प्रदेश में संपूर्ण शराबबंदी तक आंदोलन जारी रखने का आ“वान करेगा अखाड़ा परिषद के महात्मा द्वारा यह कथन की पहाड़ के लोग शराब बहुत पीते हैं इसलिए फैक्ट्री  पहाड़ में ही लगा दी है पहाड़ वासियों के लिए इस प्रकार का कथन अत्यंत शर्मनाक और दुर्भाग्यपूर्ण है उत्तराखंड क्रांति दल इस प्रकार का कुठाराघात बर्दाश्त नहीं करेगा और इस प्रकार के कथन करने वालों को सीधी चेतावनी देता है कि उत्तराखंड की धरती को तत्काल छोड़ दें नहीं तो उनको इसके गंभीर परिणाम भुगतने होंगे भाजपा ने शराब से ध्यान हटाने के लिए देवभूमि उत्तराखंड को िखलौना बना कर अपने विधायक को स्वयं खेलने के लिए दे दिया है।

 विधायक अब उत्तराखंड को कहां रखें उसके ऊपर निर्भर करता है उत्तराखंड वीरों और साधकों की भूमि है यहां देव विराजमान है। उत्तराखंड को इस प्रकार अपमानित शब्द कहने के लिए चैंपियन पर राजद्रोह का मुकदमा  दर्ज कर गिरफ्रतार किया जाना चाहिए था किंतु सरकार हिम्मत नहीं जुटा पा रही है। वह अपनी ताकत तो 108 के कर्मचारियों  के आंदोलन को दबाने  के लिए प्रयोग कर रही है चैंपियन को अपने ऊपर इतना घमंड नहीं होना चाहिए हथियार को चलाने के लिए पहाड़ी सिपाहियों और सैनिकों की वीरगाथा से इतिहास अटा पड़ा है है और यदि चैंपियन इतना ही घमंड है तो वह उत्तराखंड की एक किसी भी चोटी को फतह कर दिखाएं 5 किलोमीटर पैदल चलकर चैंपियन की चैंपियन गिरी तो निकल ही जाएगी साथ में विधायक  जी खून की उल्टियां कर देंगे रघुनाथ जी के घर में शराब की फैक्ट्री भाजपा ने खोली है उस पर हर हाल में उत्तराखंड क्रांति दल ताला डालेगा रघुनाथ जी और मां चंद्रबदनी की पावन भूमि को हर हाल में शराब की उद्गम स्थान के रूप में  पहचान बनने नहीं दिया जाएगा शराब की फैक्ट्री बंद करने की आधार उत्तराखंड क्रांति दल के पास विद्यमान है इस मामले में आंदोलन के साथ साथ न्यायालय का भी सहयोग लिया जाएगा और फैक्ट्री को किसी भी कीमत पर बंद किया जाएगा। इस आंदोलन की शुरुआत देवप्रयाग से ही जाएगी जिसका जिसका नेतृत्व दिवाकर भट्टð करेंगे और संपूर्ण उत्तराखंड को इस आंदोलन से जुड़ने का आ“वान करेंगे जो लोग अपने स्वार्थ के लिए शराब का समर्थन कर रहे हैं उनको जनता देख रही है।  गायक नरेंद्र सिंह नेगी का शराब के पक्ष में  दिया गया बयान दुखदाई है। इस बयान से उनके ऊपर पूर्व में लगने वाले आरोपों की पुष्टि हो गई है कि वह सरकारों से लाभ लेते आ रहे हैं। नेगी ने नौछमी नारायण गीत गाकर इस प्रकार एक उत्तराखंड के महान राष्ट्रीय नेता का अपमान किया था। आज नरेन्द्र नेगी हिलटॉप शराब का प्रचार प्रसार सरकार के पक्ष में कर रहे हैं जो कि अत्यंत चिंता एवं दुखदाई विषय है। उक्रांद नेगी से अपील करता है कि वह सरकार के छोटे-छोटे लाभ से अपना मोह भंग करें एवं अपना इतिहास शराब के प्रचार के रूप में ना होने दें। उन्होने कहा कि उत्तराखंड में संपूर्ण शराबबंदी तक आंदोलन जारी रखने का संकल्प लें। प्रेसवार्ता में महानगर अध्यक्ष सुनील ध्यानी, वरिष्ठ नेता लताफत हुसैन, जिलाध्यक्ष विजय बौड़ाई,अशोक नेगी आदि मौजूद रहे।