-बरामद चोरी के लैपटाप की कीमत करीब बीस लाख

देवभूमि मीडिया ब्यूरो 

देहरादून । पटेलनगर थाना क्षेत्र में चोरी किये गये 43 लैपटाप (विभिन्न कम्पनी) के बरामद कर, अन्तर्राज्यीय गैंग के 7 शातिर चोरों को पुलिस ने गिरफ्तार कर चोरी के मामलों का खुलासा किया है।

मीडिया से बातचीत करते हुए एसएसपी निवेदिता कुकरेती ने बताया कि वर्तमान समय में जनपद देहरादून में बढ रही साधारण, हाईटैक व वाल्वो एसी बसो में हो रही लगातार लैपटाप चोरियों के अनावरण हेतु पुलिस अधीक्षक नगर व क्षेत्रधिकारी सदर के दिशा निर्देश में प्रभारी निरीक्षक पटेलनगर के नेतृत्व में चार टीमें गठित की गयी, जिसके फलस्वरूप प्रभारी निरीक्षक थाना पटेलनगर द्वारा एसएसआई पटेलनगर, चौकी प्रभारी आईएसबीटी व थाने के अन्य उपनिरीक्षकों के साथ बसों में हो रही चोरियों के अनावरण हेतु आईएसबीटी बस स्टैंड के अन्दर व बाहर लगे सीसीटीवी फुटेज एवं बस स्टैंड के अन्दर संदिग्ध व्यक्तियों एवं पुराने जेल से रिहा अभियुक्तों  का सत्यापन एवं लगातार वाहनों की चैकिंग की गयी।

कुछ टीमें सादे वस्त्रें में लगातार जनपद की सीमाओं से बाहर जाने वाली साधारण, हाईटैक व वाल्वो एसी बसो में भ्रमणशील रहकर सतर्क दृष्टि बनायी रखी, जिस पर पुलिस टीम को कुछ पुख्ता जानकारी मिलने पर पुलिस टीम द्वारा 2 संदिग्ध व्यक्तियों को आईएसबीटी से 4 लैपटाप के साथ पकडा जिन्होंने पूछताछ पर बताया कि हमारे 5 साथी पौंटा साहिब में कुछ चोरी के लैपटाप के साथ हमारा इन्तजार कर रहे है।

सूचना पर प्रभारी निरीक्षक पटेलनगर द्वारा चैकी प्रभारी आईएसबीटी  के साथ एक टीम गठित कर दोनो पकडे गये संदिग्धों के साथ लेकर निजी वाहन से पौंटा साहिब भेजा, जहाँ पर पुलिस टीम द्वारा दोनो पकडे गये व्यत्तिफयों के बताये अनुसार वाहन संख्या डीएल 17बी-3802 को चैक किया गया जिसमें 5 व्यत्तिफ संदिग्ध बैठे मिले जिन्हें पुलिस मौके पर वाहन को चैक किया गया तो वाहन के अन्दर 39 लैपटाप चोरी के बरामद हुए जिनका मौके पर सर्विस टैग सिरियल नं0 मिलाने पर थाना पटेलनगर पर धारा 379 मुकदमा पंजीकृत के लैपटाप बरामद हुए जिन पर पकडे गये।

अभियुत्तफ गणों द्वारा बताया कि यह हमने आईएसबीटी, दिल्ली कश्मीरी गेट से विभिन्न शहरों (दिल्ली, चण्डीगढ, हल्द्वानी, जयपुर, आगरा व अन्य शहर) को चलने वाली बसों में बैठते है एवं अलग-अलग जगह पर लैपटाप चोरी करने के बाद उनके स्थान पर टाईल्स रख देते है। आरोपियों से बरामद माल की कीमत करीब बीस लाख रूपये बताई जा रही है।

  पूछताछ में अभियुत्तफगणों द्वारा बताया कि हम लोग 2-2 लोगो की टीम बनाकर काम करते है हम लोग रात्रि के समय स्वयं लैपटाप का बैग जिसके अन्दर टाईल्स लेकर आईएसबीटी से अन्य शहरो के लिए सफर करते थे तथा मौका मिलने पर हम लोग यात्रियों के बैग से लैपटाप निकालकर उनकी जगह टाईल्स रख देते थे तथा इन लैपटाप को हनुमान गढ राजस्थान, अमरोहा उ0प्र0 आदि जनपदों में सस्ते दामों में बेच देते है।

आरोपियों की पहचान राजेन्द्र निवासी ग्राम डयोटी थाना बछरायु जिला अमरोहा , मौ0 अजहर निवासी ग्राम मो0 वारसीनगर आंशिक थाना मुगलपुरा जिला मुरादाबाद, प्रमोद पुत्र वीर सिंह निवासी ग्राम अकोंघा थाना चादपुर जिला बिजनौर , संजीव कुमार उर्फ मोन्टू निवासी ग्राम डयोटी थाना बछरायु जिला अमरोहा, अब्दुल सलीम निवासी वार्ड नं0 22 नियर एलबीएस स्कूल थाना भादरा जिला हनुमानगढ राजस्थान , मो0 सलीम निवासी ग्राम चुचैलाकला थाना धनौरा तहसील धनौरा अमरोहा हाल पता अबुल फजल एन्कलेव डी-331 जामियानगर थाना जामियानगर नई दिल्ली बताया और जितेन्द्र निवासी ग्राम बुढानपुर माफी पो0ऑ0 बसेड़ा तला थाना नौगांवा सादात जिला अमरौहा के रूप में हुई।

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.