• अब आतंकवाद के अंत का समय आ गया : सीएम 

देवभूमि मीडिया ब्यूरो 

श्रीनगर : पौड़ी लोक सभा के पौड़ी, रूद्रप्रयाग, चमोली जिले सहित व टिहरी की देवप्रयाग व नरेंद्रनगर विधानसभा के बूथ पालक, बूथ अध्यक्ष व बीएलए(त्रिशक्ति) कार्यकर्ताओं का सम्मेलन आयोजित किया गया। गढ़वाल के विभिन्न क्षेत्रों से पहुंचे भाजपा के हजारों कार्यकर्ताओं के साथ ही पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष और प्रदेश सरकार के कई मंत्रियों और विधायकों ने भी मंगलवार को श्रीनगर में पुलवामा में शहीद हुए जवानों की शहादत को नम आंखों से नमन करते हुए उनकी शहादत को सलाम भी किया।

लोकसभा चुनाव की तैयारियों को लेकर भाजपा का यह त्रिशक्ति सम्मेलन मंगलवार को यहां जीआइटीआइ मैदान में आयोजित किया गया। इसमें गढ़वाल लोकसभा क्षेत्र के 13 विधानसभा क्षेत्रों से आए लगभग छह हजार से अधिक पार्टी के बूथ स्तरीय पार्टी पालक, संयोजक और बूथ लेबल एजेंटों ने भाग लिया।वक्ताओं ने कहा विकास और ईमानदारी के मामले में मोदी का कोई विकल्प नहीं है। पुलवामा हमले को लेकर जहां पाक को मुंहतोड़ जवाब देने की बात कही गई। साथ ही धारा 370 को समाप्त कराना भी जरूरी बताया गया। त्रिशक्ति सम्मलेन को भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष अजय भट्ट ,डॉ. हरक सिंह रावत , तीरथ सिंह रावत सहित कई नेताओं ने सम्बोधित किया।

सभी कार्यकर्ताओं को अपना बूथ सबसे मजबूत के मन्त्र को लेकर अपने बूथ पर सबसे अधिक मतो से भाजपा को मजबूत कर 2019 में अपनी 5 लोक सभा सीटों के साथ ही पूरे देश में 400 सीटों के साथ पुनः मोदी जी को प्रधानमंत्री बनाने का काम करना है।

मौसम खराब होने के कारण मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत इस कार्यक्रम में नहीं पहुंच पाए। लेकिन उन्हें कार्यकर्ताओं को मोबाइल फोन के जरिए संबोधित किया। उन्होंने कहा कि देश को मोदी जैसे प्रधानमंत्री की आवश्यकता है। मुख्यमंत्री श्री रावत ने कहा अब आतंकवाद के अंत का समय आ गया है। उन्होंने केंद्र व राज्य सरकार की उपलब्धियां भी गिनाते हुए मोदी को फिर से प्रधानमंत्री बनाने के लिए एकजुट होने का आह्वान किया।

पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष अजय भट्ट ने कहा कि पार्टी की यह त्रिशक्ति बूथ स्तर पर पार्टी कमांडर भी हैं। मोदी सरकार किसी भी स्थिति में देशद्रोहियों को बख्शेगी नहीं। राफेल को लेकर झूठ फैलाने का आरोप कांग्रेस पर लगाते हुए अजय भट्ट ने कहा कि दुष्प्रचार करने वालों से भी सावधान रहने की जरूरत है। राहुल, ममता और अन्य वामपंथी नेताओं को भी निशाने पर लेते हुए अजय भट्ट ने कहा कि भ्रष्टाचारियों के खिलाफ जनता अब एकजुट होकर मोदी के साथ है। इसीलिए अन्य पार्टियों और उनके नेताओं में हताशा और निराशा भी है।

उच्च शिक्षा और सहकारिता राज्य मंत्री डॉ. धन सिंह रावत ने पार्टी कार्यकर्ताओं को उनकी जिम्मेदारी का अहसास कराया। कहा कि 2014 की तुलना में अब हमें और ज्यादा प्रचंड बहुमत के साथ भाजपा को जिताना है। पर्यटन मंत्री सतपाल महाराज, वन मंत्री डॉ. हरक सिंह रावत, भाजपा के राष्ट्रीय मंत्री तीरथ सिंह रावत के साथ ही देवप्रयाग विधायक विनोद कंडारी, पौड़ी विधायक मुकेश कोली, यमकेश्वर विधायक ऋतु खंडूड़ी, थराली विधायक मुन्नी देवी, रुद्रप्रयाग विधायक भरत चौधरी, महेंद्र भट्ट, मातबर सिंह रावत, चंडी प्रसाद भट्ट मौजूद रहे।

पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष अजय भट्ट, प्रदेश सरकार के मंत्री सतपाल महाराज, डॉ. हरक सिंह रावत, डॉ. धन सिंह रावत और पार्टी के 13 विधायकों के साथ ही पार्टी के अन्य उच्च पदाधिकारियों ने भी भाजपा के विभिन्न क्षेत्रों से आए छह हजार से अधिक पार्टी कार्यकर्ताओं को लेकर दो मिनट का मौन रखकर पुलवामा के शहीद जवानों को भावभीनी श्रद्धांजलि भी दी। इस अवसर पर प्रदेश के मंत्रियों के साथ ही भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष अजय भट्ट ने भी कहा कि पाकिस्तान को बेहद कठोर सबक सिखाया जाएगा। पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष अजय भट्ट ने कहा कि जम्मू कश्मीर से बाहर उत्तराखंड और अन्य राज्यों में पढ़ रहे कश्मीरी छात्र-छात्रएं भी हमारे ही अंग हैं, जो इक्का दुक्का कश्मीरी युवा पाक के नारे लगाते हैं उनके खिलाफ सरकार कार्रवाई कर रही है। भाजपा प्रदेश अध्यक्ष अजय भट्ट ने कार्यकर्ताओं को मेरा बूथ सबसे मजबूत का पाठ पढ़ाया। उन्होंने कहा कि आगामी लोक सभा चुनाव को देखते हुए त्रिशक्ति को चौकन्ना रहने की जरूरत है।

Previous articleपौड़ी और अल्मोड़ा में हुआ सबसे अधिक पलायन
Next articleपाकिस्तान का पुराना पैंतरा है सुबूत मांगना
डिस्क्लेमर (अस्वीकरण) : देवभूमि मीडिया.कॉम हर पक्ष के विचारों और नज़रिए को अपने यहां समाहित करने के लिए प्रतिबद्ध है। यह जरूरी नहीं है कि हम यहां प्रकाशित सभी विचारों से सहमत हों। लेकिन हम सबकी अभिव्यक्ति की आज़ादी के अधिकार का समर्थन करते हैं। ऐसे स्वतंत्र लेखक,ब्लॉगर और स्तंभकार जो देवभूमि मीडिया.कॉम के कर्मचारी नहीं हैं, उनके लेख, सूचनाएं या उनके द्वारा व्यक्त किया गया विचार उनका निजी है, यह देवभूमि मीडिया.कॉम का नज़रिया नहीं है और नहीं कहा जा सकता है। ऐसी किसी चीज की जवाबदेही या उत्तरदायित्व देवभूमि मीडिया.कॉम की नहीं होगी । धन्यवाद !