तपोवन त्रासदी : रैंणी-तपोवन में 15वें दिन तक मिले 67 शव,137 की अब भी तलाश

0
275

अभी तक कुल 34 की शिनाख्त और 139 लापता व्यक्तियों की अब भी तलाश जारी

देवभूमि मीडिया ब्यूरो 

तपोवन (जोशीमठ) : चमोली के जोशीमठ प्रखंड के रैंणी और तपोवन क्षेत्र में शवों की खोजबीन का काम 14वें दिन भी जारी रहा। रविवार को बैराज साइट से दो शव और सुरंग से एक शव बरामद किए गए हैं। सभी शवों की शिनाख्त कर ली गई है। अब तक 68 शव और 28 मानव अंग बरामद कर लिए गए हैं। आपदा में 136 लोग अभी भी लापता हैं। 

एनडीआरएफ, डीआरएफ, सेना, बीआरओ के जवानों की ओर से राहत व बचाव का कार्य युद्धस्तर पर जारी है। बचाव टीम ने शनिवार देर शाम तक पांच और शव बरामद किए हैं। बता दें कि आपदा के बाद से क्षेत्र में 204 लोग लापता हो गए थे, जिन्हें ढूंढ़ने के प्रयास जारी हैं। अभी तक कुल 67 शवों को बरामद किया जा चुका है। एनटीपीसी की तपोवन-विष्णुगाड परियोजना में कार्यरत 115 संविदा श्रमिक अभी भी लापता हैं, जबकि राज्य सरकार की ओर से 24 श्रमिक मृत घोषित किए जा चुके हैं।

उत्तराखंड के डीजीपी अशोक कुमार ने बताया कि चमोली जिले के तपोवन डैम के मलबे से पांच और शव बरामद किए गए हैं। इसके साथ ही अब तक कुल 67 शव बरामद किए गए हैं। बता दें कि अभी तक कुल 34 की शिनाख्त हो चुकी है जबकि 139 लापता व्यक्तियों की तलाश जारी है।