नैनीताल जिला के क्वारान्टाइन सेंटर में छह साल की बच्ची को सांप ने डंसा, मौत

0
853

बेतालघाट ब्लाक के तल्ली सेठी प्राइमरी स्कूल में हुई घटना

दिल्ली से पैतृक गांव आए परिवार को किया था क्वारान्टाइन

ग्राम थापती और लेधरा में भी क्वारान्टाइन सेंटरों में सांप देखे गए

देवभूमि मीडिया ब्यूरो

सांप से डसने के मामले में चार के खिलाफ मामला दर्ज 

छह साल की बच्ची को सांप से डसने के मामले में प्रवासियों की देख रेख में लापरवाही का मामला मानते हुए जिला प्रशासन ने क्वारान्टाइन सेंटर के जिम्मेदार अधिकारियों और कर्मचारियों के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया है।  यह मुकदमा राजस्व निरीक्षक, ग्राम पंचायत विकास अधिकारी और सहायक अध्यापक के खिलाफ अलग-अलग धाराओं में दर्ज हुआ है।
जिलाधिकारी के निर्देश पर बेतालघाट की एसडीएम रिचा सिंह ने प्रवासियों की देखरेख में लापरवाही बरतने के मामले को गंभीरता से लेते हुए और  बच्ची के चाचा भीम सिंह की रिपोर्ट पर मल्ली सेठी के राजस्व उप निरीक्षक राजपाल सिंह के खिलाफ, बेतालघाट के खंड शिक्षा अधिकारी डॉ. वीएस निषाद की ओर से कांडा के ग्राम पंचायत विकास अधिकारी रमेश जोशी और तल्ली सेठी स्थित राजकीय इंटर कॉलेज के सहायक अध्यापक करन सिंह के खिलाफ भारतीय दंड संहिता की धारा 188, 269, 270, 304 और आपदा प्रबंधन अधिनियम की धारा 55 के तहत बेतालघाट तहसील में मुकदमा दर्ज किया गया है।
नैनीताल। क्वारान्टाइन सेंटर में मां के साथ रह रही छह साल की बच्ची को सांप ने डंस लिया। बच्ची की मृत्यु हो गई। बेताल घाट ब्लाक के तल्ली सेठी प्राथमिक विद्यालय में यह घटना हुई। नौ दिन पहले ही बच्ची अपनी मां और पिता के साथ दिल्ली से यहां आई थी। 
जानकारी के अनुसार,महेंद्र सिंह नौ दिन पहले ही अपने परिवार के साथ दिल्ली से तल्लीसेठी पहुंचे थे। तल्लीसेठी उनका पैतृक गांव है। उनके साथ पत्नी, भाई और दो बच्चे भी आए थे। ऑपरेशन होने के कारण महेंद्र को घर पर क्वारान्टाइन किया गया था। जबकि अन्य लोगों को 14 दिन के लिए क्वारान्टाइन सेंटर में रहने के लिए कहा गया। 
सोमवार सुबह पांच बजे महेंद्र सिंह की छह साल की बेटी अंजली को सांप ने डंस लिया। बच्ची के रोने की आवाज सुनकर मां पास पहुंचीं तो उन्होंने देखा कि वहां से सांप गुजर रहा था।
सूचना मिलने पर गांव के काफी लोग मौके पर पहुंचे। ग्रामीणों ने अंजलि को सीएससी बेतालघाट पहुंचाया। जहां उसकी मृत्यु हो गई। 
ग्रामीणों ने बताया कि ग्राम थापती और लेधरा में भी क्वारान्टाइन सेंटरों में सांप देखे गए। स्थानीय लोगों ने इन सांपों को मारकर क्वारान्टाइन सेंटरों में रह रहे लोगों को अनहोनी से बचाया।
ग्रामीणों ने सरकार और जिला प्रशासन से सुरक्षित स्थानों पर क्वारान्टाइन सेंटर बनाने तथा लोगों की सुरक्षा की व्यवस्था कराने की मांग की।