सल्ट उपचुनाव : ”गंगा” के सहारे 2022 के लिए अमृत तलाशती कांग्रेस !

0
486

कांग्रेस प्रभारी यादव और हरीश रावत की प्रतिष्ठा का प्रश्न बना सल्ट विधानसभा का उपचुनाव !

मुख्य संवाददाता

सल्ट उपचुनाव में कांग्रेस चुनाव जीतने के लिए हर संभव कोशिश को परवान चढाने में जुटी हुई है। प्रदेश प्रभारी देवेंद्र यादव सल्ट उपचुनाव में दूसरी बार पांच दिनों का कैंप कर रहे हैं। यह चुनाव जहां उनके लिए भी प्रतिष्ठा का सवाल बना हुआ है तो साथ ही उत्तराखंड के वरिष्ठ नेता व पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत के भविष्य के लिए भी महत्वपूर्ण। उनके साथ कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष प्रीतम सिंह भी सल्ट चुनाव में कांग्रेस को जीत दिलाने के लिए एड़ी चोटी का जोर लगाए हुए हैं। 2017 के विधानसभा चुनाव में कांग्रेस इस सीट पर भाजपा को कड़ी टक्कर दे चुकी है और मोदी लहर के बावज़ूद मात्र 2904 वोटों से पीछे रही कांग्रेस इस बार भाजपा को वाक ओवर देने के मूड में नज़र नहीं आती यही कारण है कि कांग्रेस ने सारी ताक़त यहां झोंक दी है और उसे महिला प्रत्याशी के एक बार फिर चुनाव मैदान में होने का भी फायदा मिल रहा है।

राजनीतिक जानकारों का मानना है कि सल्ट विधानसभा का उपचुनाव उत्तराखंड में वेंटिलेटर पर सांस ले रही कांग्रेस को किसी ऑक्सीजन से कम साबित नहीं होगी। इसी विजय के दम पर कांग्रेस 2022 में होने वाले विधानसभा चुनाव में जीत का सपना लेकर आगे बढ़ रही है। इनका मानना है यदि कांग्रेस इस उप चुनाव में जीत दर्ज करती है तो उसमें आत्मविश्वास का संचार होगा और वह और दम ख़म से 2022 का विधानसभा चुनाव लड़ेगी।

वर्तमान में कांग्रेस प्रत्याशी गंगा पंचोली को सल्ट की सियासत में मजबूत स्थिति में लाकर कांग्रेस ने खड़ा तो कर दिया है। दमदार प्रचार की बदौलत और क्षेत्र में कोरोना काल के समय से ही लगातार डटी रहने वाली महिला प्रत्याशी गंगा पंचोली सल्ट उपचुनाव में कड़ी मेहनत कर रही हैं। 2022 के विधानसभा चुनाव से पहले सल्ट का उपचुनाव कांग्रेस के लिए एक बड़ी लकीर साबित हो सकता है शायद यही वजह है कि कांग्रेस के दिग्गज नेता सल्ट में डेरा डालकर बैठे हुए हैं।

प्रदेश प्रभारी देवेंद्र यादव लगातार सल्ट उप चुनाव को जीतने के लिए पार्टी के कार्यकर्ताओं को टिप्स देते हुए नजर आ रहे हैं। ऐसे में लाजमी है कि सल्ट उपचुनाव में कांग्रेस मजबूती से चुनाव लड़ती हुई नजर आ रही है। इतना ही नहीं इस उपचुनाव को लेकर पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत की हॉस्पिटल से जारी मार्मिक अपील का असर इस चुनाव में नज़र आ रहा है उनकी सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रही अपील और हॉस्पिटल से बेड पर लेटे हुए ली गई तस्वीर और उसके बाद हॉस्पिटल से डिस्चार्ज होने के दौरान की अपील और तस्वीरें इलाके में असर दिखा रहीं है।

सल्ट के उप चुनाव में मतदाताओं के बीच उस अपील को भुनाने के लिए कांग्रेस भी पूरी कोशिश कर डाली है हरीश रावत कैंप से जुड़े तमाम विधायक उपचुनाव में कांग्रेस पक्ष में मतदान करने की अपील करते हुए नजर आ रहे हैं वही कांग्रेस के तमाम कार्यकर्ता इस चुनाव को जीतने के लिए पूरा दमखम दिखाते हुए उपचुनाव में जुटे हुए हैं ऐसे में इतनी कोशिशों के बाद कांग्रेस को यहां उम्मीदों की जीत नजर आ रही है।

सल्ट उपचुनाव में पांच ब्लॉक मौजूद है यहाँ के मतदाता पहाड़ी ज़िलों के रहने वाले है अगर बात करे सल्ट विधानसभा की तो ये विधानसभा काफी लम्बी दूरी वाली विधानसभा है जिसके पोलिंग बूथ दूरी पर होने के कारण मतदाता ग्रमीण इलाको में निवास करते है। कुल मिलाकर सल्ट उपचुनाव से गंगा के सहारे 2022 के लिए कांग्रेस अमृत तलाशती नज़र आ रही है यही वजह है सल्ट में कांग्रेस का हर नेता जीत की मुहीम को परवान चढ़ाता नज़र आ रहा है।