राज्य आंदोलनकारियों का डाटा तैयार करेगी बलिदान ब्रिगेड

0
192

छह  दिसम्बर को सतपुली से होगी शुरूआत

भावी पीढ़ी को आंदोलन के इतिहास से रूबरू कराने की कवायद

गुणानंद जखमोला 
सतपुली के मलेठी में आगामी 6 दिसम्बर को उत्तराखंड बलिदान ब्रिगेड की शुरूआत हो रही है। इसके संयोजक उद्यमी और समाजसेवी सुंदर सिंह चौहान और अध्यक्ष गढ़वाल विवि के प्रोफेसर राकेश नेगी हैं। उद्घाटन के मौके पर मुख्य अतिथि के तौर पर थराली के भूपेंद्र रावत रहेंगे। भूपेंद्र रावत के पिता और भाई उत्तराखंड राज्य आंदोलन में शहीद हो गये थे। समाजसेवी सुंदर सिंह चौहान का कहना है कि यह ब्रिगेड राज्य आंदोलनकारियों का डाटा एकत्रित करेगी। यह कार्य ग्राम, वार्ड, ब्लाक और जिला स्तर पर किया जाएगा। गुमनाम आंदोलनकारियों को पहचान दिलाने का काम होगा। साथ ही भावी पीढ़ी को अपने इतिहास से अवगत कराने के लिए लाइब्रेरी और शहीद स्मारक भी बनाए जाएंगे।
समाजसेवी सुंदर सिंह चौहान की यह पहल सराहनीय है। उन्होंने कहा कि राज्य गठन का जो उद्देश्य था कि पर्वतीय जिलों के लोगों के लिए रोजगार की व्यवस्था हो। नौकरियों में उन्हें आरक्षण मिले और विकास ग्रामस्तर तक पहुंचे लेकिन राज्य गठन के बाद सरकार रोजगार देना भूल गयी साथ ही मूल निवासी के स्थान पर स्थायी प्रमाण पत्र दिये जा रहे हैं। यह भावी पीढ़ी के लिए समस्या है। गांव में स्वरोजगार के लिए बैंक मूल पैतृक संपत्ति पर लोन नहीं देते हैं। वनाधिकार नहीं दिये जा रहे हैं। इन विषयों और समस्याओं को लेकर भी बलिदान ब्रिगेड सवाल उठाएगी।
बलिदान ब्रिगेड के संबंध में विस्तृत जानकारी के लिए ठाकुर सुंदर सिंह चौहान से 9412971273, डा आर एस नेगी से 9412029939 और सचिव चंद्रप्रकाश शर्मा 6396621599 से संपर्क किया जा सकता है।