• त्रिवेन्द्र व मेरे बीच खाई पैदा करने की कोशिश : भगत दा  

देवभूमि मीडिया ब्यूरो 

देहरादून : राज्यसभा सांसद अनिल बलूनी के बाद अब पूर्व मुख्यमंत्री व नैनीताल से सांसद रहे भाजपा के वरिष्ठ नेता भगत सिंह कोश्यारी ने मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत विरोधियों को टका सा जवाब देते हुए कहा कि उत्तराखंड में नेतृत्व परिवर्तन की अफवाह महज कुछ लोगों द्वारा उनके और त्रिवेन्द्र के बीच ग़लतफ़हमी पैदा करने की कोशिश भर है जबकि उत्तराखंड में इस तरह की कोई संभावना ही नहीं है।

उन्होंने कहा मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत के नेतृत्व में निकाय चुनावों के बाद लोकसभा चुनाव में पार्टी ने ऐतिहासिक विजय हासिल की है। यह प्रदेश की जनता का मुख्यमंत्री और भाजपा पर विश्वास का जनसमर्थन प्रदर्शित करता है, इसके बाद भी यदि कुछ तथाकथित लोग खयाली पुलाव पका रहे हैं तो यह उनकी समझ प्रदर्शित करती है। वहीं एक सवाल के जवाब में कोश्यारी ने प्रदेश में नेतृत्व परिवर्तन से साफ इनकार करते हुए और खुद को इस दौड़ से बाहर बताते हुए कहा कि कुछ लोग मुख्यमंत्री व उनके बीच झगड़ा पैदा करना चाहते हैं, मगर उनके मंसूबे कभी भी पूरे नहीं होंगे।

गौरतलब हो कि बीते दिन ही राज्यसभा सांसद अनिल बलूनी ने भी इसी तरह का बयान देते हुए कहा था कि राज्य में प्रचंड बहुमत की स्थिर सरकार है। डबल इंजन का संकल्प उत्तराखंड के कायाकल्प के लिए कार्यरत है। फेसबुक पर अपनी पोस्ट में बलूनी ने लिखा-‘मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत के नेतृत्व में सरकार राज्य की भावना के अनुरूप विकास के पथ पर आगे बढ़ रही है। मेरी कामना है कि राज्य का नेतृत्व विकास के नए आयाम छुए।’ उन्होंने लिखा कि कुछ महीनों से वह निरंतर देख रहे हैं कि सोशल मीडिया उत्तराखंड के राजनैतिक परिदृश्य पर अनेक चर्चाएं हो रही हैं। विशेषकर राज्य के नेतृत्व को लेकर कई पोस्ट हैं, जो कि पूर्णत: निराधार हैं।

Advertisements