जनता के प्रति संवेदनशील जनसेवक त्रिवेंद्र रावत

0
337

सरकार किसी भी परिस्थिति में अपने प्रदेशवासियों के साथ हर वक़्त खड़ी नज़र आती है इसके लिए तीन उदाहरण ही काफी

देवभूमि मीडिया ब्यूरो 
देहरादून : त्रिवेंद्र सरकार की कल्याणकारी योजनाओं का लाभ किसी भी प्रकार का भेदभाव किए बगैर समाज के और प्रदेश के आत्म छोर पर खड़े पात्र व्यक्ति को दिया जा रहा है। सरकार ‘सबका साथ, सबका विकास, सबका विश्वास’ के सिद्धांत को आत्मसात किए हुए है। सरकार किसी भी परिस्थिति में अपने प्रदेशवासियों के साथ हर वक़्त खड़ी नज़र आती है इसके लिए बीते दो दिनों के ये दो उदाहरण ही काफी हैं। जबकि इससे पहले तपोवन हादसे के दौरान भी मुख्यमंत्री ने खुद तपोवन पहुंचकर पूरी व्यवस्था को वहां खुद खड़े होकर लगाया जिससे काफी हद तक जनहानि कम हुई है।   
पहला मामला जनपद टिहरी गढ़वाल के ग्राम मौली गांव निवासी श्रीमती मेहाजबी कुरेशी का जो सात माह की गर्भवती हैं की तबियत अचानक बिगड़ने पर मुख्यमंत्री Trivendra Singh Rawat  के निर्देश पर उनके उपचार के लिए एयर एम्बूलेंस से एम्स ऋषिकेश लाकर भर्ती किया गया है। 
उनको टिहरी के चिकित्सक ने सुरक्षित प्रसव के लिए एम्स ऋषिकेश रैफर किया। सड़क मार्ग से ऋषिकेश लाए जाने में खतरा होने की संभावना को देखते हुए जिलाधिकारी ने एम्स ऋषिकेश तक पहुंचाने को एयर एम्बुलेंस सेवा उपलब्ध कराये जाने का अनुरोध मुख्यमंत्री जी से किया गया था। जच्चा-बच्चा की जान बचाने के लिए मुख्यमंत्री ने तुरन्त हेलीकॉप्टर भेजने की संस्तुति प्रदान कर उन्हें एम्स में भर्ती करवाया, जहां अभी उनका उपचार चल रहा है।
वहीं दूसरा मामला बीते दिन जनपद चमोली के अन्तर्गत देवाल-सुयालकोट मोटर मार्ग पर मैक्स वाहन दुर्घटना का है। यह  दुःखद समाचार जैसे ही मुख्यमंत्री तक पहुंचा उन्होंने जिले से जानकारी प्राप्तकर हादसे के पांच घायलों में से दो की हालत गंभीर होने पर उन्हें एयर लिफ्ट कर एम्स ऋषिकेश लाने की व्यवस्था की जिसके लिए सरकारी हेलीकाप्टर भेजा गया और घायलों को एम्स ऋषिकेश में भर्ती किया गया है। बात सिर्फ भर्ती तक ही सीमित नहीं रही. मुख्यमंत्री ने एम्स प्रशासन को घायलों के उपचार को लेकर सम्बंधित चिकित्सकों को उचित दिशा-निर्देश भी दिए हैं। उन्होंने ईश्वर से दुर्घटना के सभी घायलों के शीघ्र स्वास्थ्य लाभ की कामना भी की है।