औद्यानिकी विश्वविद्यालय भरसार का मामला

छप्पर फाड़ वोट बरसाने वाली जनता हुई आगबबूला

पैठाणी मण्डल के अध्यक्ष डॉ. मनवर सिंह रावत एवं महामंत्री ने मंत्री की कार्यप्रणाली, अकड़पन वाला स्वभाव एवं कार्यकर्ताओं की अनदेखी से क्षुब्ध होकर अपनी पूरी का टीम के साथ दिया इस्तीफा

देवभूमि मीडिया ब्यूरो

पौड़ी । अपने विधान सभा क्षेत्र श्रीनगर के भ्रमण पर गए उच्च शिक्षा राज्य मंत्री धन सिंह रावत को उनकी ही प्रिय जनता ने घेर डाला,इस बार विकास कार्यो को लेकर नही बल्कि मंत्री की अकड़ और निष्क्रियता को लेकर जनता में भारी रोष था, मामला औद्यानिकी विश्वविद्यालय भरसार का है,जंहा एक स्थानीय युवक जो कि भरसार में कर्मचारी था का किन्ही कारणों से देहांत हो गया,उस दिन मंत्री जी वंही गेस्ट हाउस में आराम फरमा रहे थे और अपने चेले चपाटों के साथ लजीज भोजन का आनंद ले रहे थे,लेकिन मंत्री जी की संवेदनशीलता इस कदर देखने को मिली कि बगल में लांश पड़ी रही और मंत्री जी चार कदम पर उनके परिजनों को सांत्वना देने तक कि जहमत नही उठा पाए।

अपने क्षेत्रीय विधायक और मंत्री की इस कार्यप्रणाली पर उनको 2012 में मोदी लहर में छप्पर फाड़ वोट बरसाने वाली जनता आगबबूला हो उठी,उन्होंने मंत्री का काफिला रोक लिया और खूब खरी खोटी सुनाई,मामले को भांपते हुए मंत्री ने पहले तो वीडियो बनाने वालों को टोका,फिर बमुश्किल जनता से मांफी मांग वहां से खिसक लिए ।

धन सिंह की मुश्किलें अब श्रीनगर विधान सभा क्षेत्र में बढ़ती दिख रही हैं, श्रीनगर नगर पालिका चुनाव में अपने समर्थक जितेंद्र रावत की पत्नी की हार के सदमे से उबर भी नही पाए थे कि उसके चन्द दिनों बाद उनके कट्टर समर्थक कहे जाने वाले पैठाणी मण्डल के अध्यक्ष डॉ मनवर सिंह रावत एवं महामंत्री ने मंत्री की कार्यप्रणाली, अकड़पन वाला स्वभाव एवं कार्यकर्ताओं की अनदेखी से क्षुब्ध होकर अपनी पूरी का टीम के साथ इस्तीफा देकर धन सिंह के जख्मो पर नमक छिड़कने का काम कर दिया।

हाल की इस घटना से तो पूरे क्षेत्र में मंत्री के खिलाफ जबरदस्त आक्रोश देखने को मिल रहा है,यही हाल रहे और समय रहते धन सिंह नही सम्भले तो 2022 की राह उनके लिए बहुत कठिन सिद्ध हो सकती है।

Advertisements

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.