प्रोफेसर नवदीप जोशी ने प्राकृतिक चिकित्सा से तीन लाख लोगों को अपने अभियान से जोड़ा

0
255

नवयोग सूर्योदय सेवा समिति योग और प्राकृतिक चिकित्सा के प्रचार प्रसार में वर्ष 2004 से है लगी 

देवभूमि मीडिया ब्यूरो  

नई दिल्ली : नवयोग सूर्योदय सेवा समिति एवम् आयुष मंत्रालय भारत के संयुक्त तत्वावधान द्वारा 18 अक्टूबर से चल रहा अंतरराष्ट्रीय वेबीनार के द्वारा देश विदेश के प्रसिद्ध प्राकृतिक चिकित्सक एवं योगाचार्य द्वारा सप्ताह में 4 दिन मंगलवार बृहस्पतिवार शनिवार और रविवार जूम फेसबुक लाइव और यूट्यूब के माध्यम से वेबीनार चल रहा है जिसमें अभी तक तीन लाख से अधिक लोग देख चुके हैं।

मुख्य अतिथि के रूप में प्रोफेसर रमेश चंद्र पांडेय, प्रोफ़ेसर रूप किशोर शास्त्री, प्रो. सुनील जोशी, प्रो. दिनेश , प्रोफेसर के. जी. सुरेश , प्रोफेसर विनय कपूर, प्रोफेसर ओपी नेगी, प्रोफेसर बलदेव जी ,प्रोफेसर टनकेश्वर जी आदि कुलपति महोदय, आचार्य लोकेश मुनि जी श्री राकेश जैन जीअखिल भारतीय पर्यावरण प्रमुख राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ, दिनेश कामत जी, पदम श्री आलोक मेहता , पदम श्री नागेन्द्र जी , वरिष्ठ पत्रकार डॉ प्रवीण तिवारी , राजेंद्र जोशी , विश्व हिंदू परिषद के अंतरराष्ट्रीय अध्यक्ष श्री आलोक जी, प्रो. बीके कुठियाला , कृपाशंकर जी, नरेश जी, भगवती जी आदि, आयुष मंत्रालय से डॉ दिनेश कुमार कटोच , डॉ राघवेन्द्र राव , अंतरराष्ट्रीय अतिथि में गुरु दिलीप जी, श्री विजय आनंद जी, योगाचार्य सोमवीर, योगाचार्य सुखदेव, योगाचार्य क्रिस्टा आदि एवरेस्ट योग संस्थान के योगाचार्य संजीव एवं योग गुरु संस्थान के योगाचार्य मोहन कार्की , योगाचार्य मुकेश , श्री प्रेम अवस्थी , योगाचार्य मंजरी जोशी, डॉ पूनम आहूजा , राधावल्लभ , कृष्ण कन्हैया सहित 100 से अधिक वक्ताओं ने अपनी सेवाएं दे कर अपनी उपस्थिति दर्ज कराई ।

वर्ष 2004 से नवयोग सूर्योदय सेवा समिति योग और प्राकृतिक चिकित्सा के प्रचार प्रसार में लगी है भारत सरकार द्वारा 18 नवंबर को प्राकृतिक चिकित्सक दिवस घोषित करने के बाद समिति ने डॉ नवदीप जोशी के नेतृत्व में लाखों लोगों तक इस भारतीय पद्धति को पहुंचाने का संकल्प लिया और इस बार कोविड-19 के चलते वर्चुअल माध्यम एवं सोशल मीडिया के द्वारा समिति के हजार सदस्यों ने योग और प्राकृतिक चिकित्सा को जन-जन तक पहुंचाने का बहुत सुंदर कार्य किया 1 महीने के इस कार्यक्रम में 5000 लोगों ने रजिस्ट्रेशन करवाया और सोशल मीडिया के द्वारा तीन लाख से ज्यादा लोग इसको देख चुके हैं ।

डॉ नवदीप जोशी साल 2000 से योग एवम् प्राकृतिक चिकित्सा के प्रचार प्रसार में लगे हुए हैं उन्होंने कहा आज देश में भारतीय प्रज्ञा के प्रचार प्रसार से समाज में हो रही बुराई, नकारात्मकता, बेरोजगारी एवं अशांति से मुक्ति मिलेगी । क्योंकि प्राकृतिक चिकित्सा हमें पांच तत्वों मिट्टी, पानी, धूप, हवा एवम् आकाश के चिकित्सीय गुणों के साथ जीवन जीने की पद्धति सिखाती है आज हम आधुनिक सुख- सुविधा के कारण प्रकृति से दूर हो गए हैं और शारीरिक, मानसिक और सामाजिक बीमारी बढ़ती जा रही है। ऐसी दशा में जब आधुनिक चिकित्सा जहां लोगों के लिए महंगी एवम् पूर्णता स्वस्थ करने में असक्षम है वहीं प्राकृतिक चिकित्सा सस्ती सुलभ एवं प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने में कारगर है।

योग सपोर्ट एसोसिएशन इंडिया के राष्ट्रीय अध्यक्ष योगाचार्य राकेश शास्त्री एवम् डॉ नवीन कांडपाल के नेतृत्व में बच्चों में योग और प्राकृतिक चिकित्सा की जागरूकता के लिए राष्ट्रीय योगासन प्रतियोगिता का भी आयोजन योग स्पोर्ट्स एसोसिएशन इंडिया द्वारा कराया गया है। जिसमें 30 राज्यों के बच्चों ने भाग लिया । कार्यक्रम संयोजक डॉ विक्रम सिंह ने बताया कि 16,17,18 नवंबर को पूरे देश भर में नवयोग के कार्यकर्ताओं द्वारा अलग-अलग मंचों से प्राकृतिक चिकित्सा का जन जागरण किया गया । जिसमें योग गुरु संस्थान,उत्तर प्रदेश, एवरेस्ट योग संस्थान ,पंजाब, राष्ट्रीय मुक्त विद्यालयी संस्थान , शिक्षा मंत्रालय भारत सरकार, आयुष इम्यूनिटी, आयुष मंत्रालय भारत सरकार द्वारा सहयोग दिया गया ।