मुख्यमंत्री को सौंपी सचिव Civil Aviation ने ऊधमसिंहनगर में ग्रीनफील्ड एयरपोर्ट की प्री-फिजीबिलीटी रिपोर्ट

0
53207

मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र को सचिव, नागरिक उड्डयन मंत्रालय सहित अधिकारियों ने ऊधमसिंहनगर में प्रस्तावित ग्रीनफील्ड एयरपोर्ट की स्थापना की प्री-फिजीबिलीटी रिपोर्ट सौंपी 

ग्रीनफील्ड एयरपोर्ट स्थापित करने के लिए 1100 एकड़ भूमि चिन्हित

नागरिक उड्डयन मंत्रालय, भारत सरकार के सहयोग से पिछले तीन वर्ष में प्रदेश में हवाई सेवा के क्षेत्र में काफी काम किया : मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र 

ग्रीनफील्ड एयरपोर्ट को भविष्य में इसे इंटरनेशनल एयरपोर्ट के रूप में किया जा सकता है अपग्रेड : रिपोर्ट 

देवभूमि मीडिया ब्यूरो
देहरादून : सचिव, नागरिक उड्डयन मंत्रालय, भारत सरकार श्री प्रदीप खरोला और एयरपोर्ट आथोरिटी आफ इण्डिया के चैयरमेन श्री अरविंद सिंह ने मुख्यमंत्री श्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत से भेंट कर ऊधमसिंहनगर में ग्रीनफील्ड एयरपोर्ट की स्थापना की प्री-फिजीबिलीटी रिपोर्ट प्रस्तुत की।
ऊधमसिंहनगर में जिला प्रशासन द्वारा ग्रीनफील्ड एयरपोर्ट स्थापित करने के लिए 1100 एकड़ भूमि चिन्हित की गई है। वर्तमान में पंतनगर एयरपोर्ट में लगभग 267 एकड़ भूमि है।
शनिवार को सचिव, नागरिक उड्डयन मंत्रालय, भारत सरकार श्री प्रदीप खरोला और एयरपोर्ट आथोरिटी आफ इण्डिया के चैयरमेन श्री अरविंद सिंह ने मुख्यमंत्री श्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत से भेंट कर ऊधमसिंहनगर में ग्रीनफील्ड एयरपोर्ट की स्थापना की प्री-फिजीबिलीटी रिपोर्ट प्रस्तुत की। उन्होंने कहा कि ग्रीनफील्ड एयरपोर्ट के लिए चिन्हित की गई भूमि उपयुक्त है। मुख्यमंत्री ने कहा कि नागरिक उड्डयन मंत्रालय, भारत सरकार के सहयोग से पिछले तीन वर्ष में प्रदेश में हवाई सेवा के क्षेत्र में काफी काम किया गया है। ढांचागत विकास के साथ बड़ी संख्या में हवाई सेवाएं शुरू की गई हैं। 
मुख्यमंत्री ने कहा कि उत्तराखण्ड में पर्यटन, आपदा व सामरिक दृष्टि से एयर इंफ्रास्ट्रक्चर को मजबूत करना बहुत जरूरी है। राज्य सरकार द्वारा इसके लिए नागरिक उड्डयन मंत्रालय और एयरपोर्ट आॅथोरिटी आॅफ इण्डिया को हर प्रकार से सहयोग किया जा रहा है। मुख्यमंत्री ने राज्य के अधिकारियों को ग्रीन फील्ड एयरपोर्ट के लिए आवश्यक प्रक्रियाओं को जल्द से जल्द पूरा करने के निर्देश दिए। मुख्यमंत्री ने कहा कि केंद्र व राज्य के अधिकािरयों में बेहतर समन्वय है, इसका परिणाम भी दिखाई दे रहा है। आगे भी इसी प्रकार तालमेल के साथ काम किया जाए।  
ऊधमसिंहनगर में जिला प्रशासन द्वारा ग्रीनफिल्ड एयरपोर्ट स्थापित करने के लिए 1100 एकड़ भूमि चिन्हित की गई है। भविष्य में इसे इंटरनेशनल एयरपोर्ट के रूप में अपग्रेड किया जा सकता है। सचिव, नागरिक उड्डयन मंत्रालय, भारत सरकार श्री प्रदीप खरोला और एयरपोर्ट आथोरिटी आफ इण्डिया के चैयरमेन श्री अरविंद सिंह ने उत्तराखण्ड के मुख्य सचिव श्री उत्पल कुमार सिंह व अन्य अधिकारियों के साथ चिन्हित भूमि का निरीक्षण कर मुख्यमंत्री को इसकी प्री-फिजीबिलीटी रिपोर्ट मुख्यमंत्री को सौंपी। 
वर्तमान में पंतनगर एयरपोर्ट में लगभग 267 एकड़ भूमि है। 530 वर्गमीटर का पेसेन्जर टर्मिनल है। यहां व्यस्तम समय में हैंडलिंग क्षमता 50 यात्रियों की है। ग्रीनफील्ड एयरपोर्ट बन जाने से यहां की क्षमता काफी बढ़ जाएगी। इसे आगे जाकर इंटरनेशनल एयरपोर्ट के रूप में भी विकसित किया जा सकता है।
इस अवसर पर मुख्य सचिव श्री उत्पल कुमार सिंह, मुख्यमंत्री के नागरिक उड्डयन सलाहकार कैप्टन दीप श्रीवास्तव, सचिव नागरिक उड्डयन विभाग, उत्तराखण्ड श्री दिलीप जावलकर, अपर सचिव सुश्री सोनिका, जिलाधिकारी ऊधमसिंहनगर श्री नीरज खैरवाल उपस्थित थे।