थानाध्यक्ष और जांच अधिकारी हुई लाइन हाजिर

शव का तीन डॉक्टरों के पैनल से पोस्टमार्टम कराने का निर्णय

देवभूमि मीडिया ब्यूरो 

देहरादून। नाबालिग छात्रा से दुष्कर्म के प्रयास के आरोपित युवक की पुलिस हिरासत में संदेहास्पद परिस्थितियों में मौत हो गई। शनिवार सुबह उसका शव सहसपुर थाने की हवालात में मिला। पुलिस इसे आत्महत्या बता रही है। हालांकि, उसकी कहानी किसी के गले आसानी से नहीं उतर रही है। घटना से जुड़े कई सवाल अभी फिजां में तैर रहे हैं। इस बीच, शव का तीन डॉक्टरों के पैनल से पोस्टमार्टम कराने का निर्णय किया गया। इसके लिए स्वजनों का इंतजार किया जा रहा है। मृतक की पहचान उप्र के बलिया जिले के ग्राम चौबे छपरा निवासी अभिनव कुमार के रूप में हुई है। इन दिनों वह दिल्ली में रह रहा था।

एसएसपी अरुण मोहन जोशी ने प्रकरण को गंभीरता से लेते हुए थानाध्यक्ष पीडी भट्ट, विवेचक एसआइ लक्ष्मी जोशी को लाइन हाजिर कर दिया। साथ ही हवालात ड्यूटी पर तैनात हेड कांस्टेबिल महेंद्र सिंह नेगी व सर्वेश कुमार को निलंबित कर दिया है। जांच एसपी सिटी श्वेता चौबे को सौंपी गई है।

24 वर्षीय अभिनव के खिलाफ मेडिकल की एक छात्रा के पिता की तहरीर पर सहसपुर थाने की पुलिस ने शुक्रवार को दुष्कर्म के प्रयास और धमकी देने व पोक्सो एक्ट के तहत मुकदमा दर्ज किया था। बीती शाम पुलिस ने आरोपित अभिनव को पूछताछ के लिए हिरासत में लिया। बताया गया कि वह शुक्रवार को देहरादून आया था। यहां उसने छात्रा से मिलने की कोशिश की, लेकिन छात्रा ने इन्कार कर दिया। इस पर उसने छात्रा को वीडियो और फोटो वायरल करने की धमकी दी। छात्रा के पिता ने पुलिस से इसकी शिकायत की। पुलिस आरोपित को हिरासत में लेकर पूछताछ के लिए थाने ले आई। शनिवार सुबह थाने की हवालात में वह संदिग्ध परिस्थितियों में मरा हुआ मिला। एसपी देहात प्रमेंद्र डोबाल थाने पहुंचे और घटनाक्रम की जानकारी ली।

थानाध्यक्ष पीडी भट्ट का कहना है कि आरोपित को दुष्कर्म के प्रयास के मामले में पूछताछ के लिए हिरासत में लिया गया था। रात में आरोपित ने हवालात में कंबल की किनारियों को काटकर उसका फंदा बनाकर आत्महत्या कर ली। पुलिस भले ही घटनाक्रम को आत्महत्या बता रही है, लेकिन थाने में जिस हुक से फंदा लगाकर आरोपित का शव लटकने का दावा किया जा रहा है, वह किसी के गले नहीं उतर रहा है। पुलिस का कहना है कि दीवार पर कपड़े टांगने के लिए लगाई गई खूंटी (हैंगर) पर वह लटका मिला। शुक्रवार को पुलिस ने जब अभिनव से पूछताछ की थी तो उसने खुद को एयर इंडिया में टिकट चेकर बताया था।

Advertisements