देवभूमि मीडिया ब्यूरो 

रामपुर : छह साल की मासूम से दुष्कर्म कर हत्या करने वाले को पुलिस ने मुठभेड़ में गोली मारी, जो कि उसके पैर में लगी। घायलावस्था में वह पुलिस के हत्थे चढ़ गया। उसे उपचार के लिए मेरठ भेजा गया है।

दुष्कर्म के बाद हत्या कर शव पर डाला था तेजाब

एसपी ने बताया कि आसपास के लोगों से पूछताछ में पता चला था कि आरोपित ही बच्ची को बहला-फुसला कर ले गया था। आरोपित ने पूछताछ में अपना जुर्म कुबूल करते हुए बताया कि वह बच्ची को कालोनी के पीछे एक निर्माणाधीन मकान में ले गया था, जहां उसके साथ दुष्कर्म किया। पहचान के डर से उसकी गला दबाकर हत्या कर दी। इसके बाद तेजाब डालकर शव को जला दिया था।

सात मई को सिविल लाइंस कोतवाली क्षेत्र के कांशीराम कालोनी पहाड़ी गेट निवासी एक व्यक्ति की छह साल की बेटी घर के बाहर खेलते समय अचानक गायब हो गई थी। परिजनों ने सिविल लाइंस कोतवाली में गुमशुदगी भी दर्ज कराई थी।

पुलिस अधीक्षक डॉ. अजय पाल शर्मा ने बताया कि सिविल लाइंस पुलिस को तुरंत मुकदमा दर्ज कर आरोपित की गिरफ्तारी के निर्देश दिए थे। इसके लिए क्राइम ब्रांच को भी लगाया गया था। शनिवार देर रात पता लगा कि कांशीराम कालोनी पहाड़ी गेट निवासी नाजिल पुत्र नाजिम ने इस घटना को अंजाम दिया था। वह आश्रम पद्धति स्कूल के पास मजार के सामने खड़ा है। पुलिस टीम को भेजा गया। पुलिस ने घेराबंदी की तो उसने फायरिंग कर दी, जवाब में पुलिस ने भी गोली चलाई जो कि उसके पैर में लगी। उसके पास से तमंचा मिला। पैर में गोली लगने से घायल होने पर उसे उपचार के लिए अस्पताल भेजा गया, वहां से मेरठ रेफर कर दिया।

सोशल मीडिया पर एसपी की जमकर हो रही तारीफ

सोशल मीडिया पर रामपुर पुलिस खासतौर पर एसपी डॉ. अजयपाल की जमकर तारीफ की जा रही है। वैसे भी डॉ. अजयपाल की पहचान एनकाउंटर स्पेशलिस्ट के तौर पर है।

रामपुर पुलिस ने शनिवार की रात मासूम बच्ची के साथ दुष्कर्म करने के आरोपी को मुठभेड़ के बाद गिरफ्तार किया था। उसने लगभग डेढ़ माह पहले छह साल की मासूम की दुष्कर्म के बाद हत्या कर दी थी। बच्ची का शव शनिवार की शाम को बरामद हुआ था। शव बरामद होने के कुछ घंटे के अंदर ही पुलिस ने आरोपी को पकड़ने के लिए जाल बिछा दिया है। 

पुलिस जब आरोपी को पकड़ने गई तो उसने तमंचे से फायर कर दिया, पुलिस ने जवाबी कार्रवाई की। आरोपी के पैर में तीन गोलियां लगीं हैं। इस घटना को लेकर फेसबुक, ट्विटर, व्हाट्सएप सहित सोशल मीडिया के सभी माध्यमों पर रामपुर के एसपी की इस कार्रवाई की प्रशंसा कर रहे हैं। कुछ लोगों ने सोशल मीडिया पर कहा है कि आरोपी के पैर में क्यों गोली मारी, सीधे सिर में गोली मार देते। 

इस कार्रवाई के बाद एसपी को बधाई देने वालों का तांता सा लग गया। सोशल मीडिया पर ही कुछ लोग यहां तक दावा कर रहे हैं कि बच्चों के साथ दुष्कर्म कर उनकी हत्या करने वालों के खिलाफ देश में पहली बार पुलिस ने कड़ी कार्रवाई की है। रामपुर के कई सामाजिक संगठनों ने पुलिस की इस कार्रवाई को लेकर एसपी को सम्मानित करने का फैसला भी लिया है। 

Advertisements