हरिद्वार में बच्ची से दुष्कर्म और हत्या के मामले में फ़रार पुलिस की पकड़ में आया

0
428

फरार चल रहे राजीव को उत्तराखंड पुलिस ने उत्तरप्रदेश के सुल्तानपुर से किया गिरफ्तार

देवभूमि मीडिया ब्यूरो 

हरिद्वार : दुष्कर्म के बाद मासूम की हत्या के मामले में फरार चल रहे राजीव को उत्तराखंड पुलिस ने उत्तरप्रदेश के सुल्तानपुर से किया गिरफ्तार किया है। पुलिस के अनुसार वह नेपाल भागने की फिराक में था। गिरफ्तार करने वाली टीमें राजीव को उत्तर प्रदेश से हरिद्वार लेकर आ रही हैं। 

गौरतलब हो कि हरिद्वार के ऋषिकुल में बीती 20 दिसंबर को पड़ोसी के घर पतंग लेने गई बच्ची का अपहरण करने के बाद दुष्कर्म कर हत्या कर दी गई थी। पुलिस ने मुख्य आरोपित तीरथ राम को गिरफ्तार कर लिया था। जिसके बाद से ही लोग पुलिस के खिलाफ आंदोलनरत थे। मासूम बच्ची का शव आरोपी राजीव के घर से बरामद किया था  बच्ची के पिता की तहरीर पर पुलिस ने राजीव और उसके भांजे तीरथ राम के खिलाफ अपहरण, सामूहिक दुष्कर्म और हत्या के आरोप में मुकदमा दर्ज किया था।

पुलिस के अनुसार हरिद्वार के ऋषिकुल में मासूम से दुष्कर्म और हत्या के दूसरे आरोपी राजीव कुमार को पुलिस ने सुल्तानपुर के पास से रविवार सुबह करीब नौ बजे गिरफ्तार किया है। पुलिस के अनुसार आरोपी नेपाल भागने की फिराक में था। पुलिस ने शनिवार को आरोपी के छोटे भाई गौरव कुमार को पुलिस ने किया गिरफ्तार किया था। 

आरोपी के भाई से मिली जानकारी के आधार पर सीओ मंगलौर अभय प्रताप सिंह के नेतृत्व में गठित पुलिस टीम ने राजीव को पकड़ लिया। इससे पहले डीजीपी की ओर से आरोपित पर 20 हजार का इनाम घोषित किया था। बाद सरकार ने इसे बढ़ाकर एक लाख रुपए कर दिया था।

Previous articleजानिए कैसा रहेगा पूरे राष्ट्र के लिए वर्ष 2021
Next articleगाड़ियों पर यदि लिखी अपनी जाति तो होगी बड़ी कार्रवाही
तीन दशक तक विभिन्न संस्थानों में पत्रकारिता के बाद मई, 2012 में ''देवभूमि मीडिया'' के अस्तित्व में आने की मुख्य वजह पत्रकारिता को बचाए रखना है .जो पाठक पत्रकारिता बचाए रखना चाहते हैं, सच तक पहुंचना चाहते हैं, चाहते हैं कि खबर को साफगोई से पेश किया जाए न कि किसी के फायदे को देखकर तो वे इसके लिए सामने आएं और ऐसे संस्थानों को चलाने में मदद करें। एक संस्थान के रूप में ‘ देवभूमि मीडिया’ जनहित और लोकतांत्रिक मूल्यों के अनुसार चलने के लिए प्रतिबद्ध है। खबरों के विश्लेषण और उन पर टिप्पणी देने के अलावा हमारा उद्देश्य रिपोर्टिंग के पारंपरिक स्वरूप को बचाए रखने का भी है। जैसे-जैसे हमारे संसाधन बढ़ेंगे, हम ज्यादा से ज्यादा लोगों तक पहुंचने की कोशिश करेंगे। हमारी पाठकों से बस इतनी गुजारिश है कि हमें पढ़ें, शेयर करें, इसके अलावा इसे और बेहतर करने के सुझाव अवश्य दें। आप अपना सुझाव हमें हमारे ई-मेल editor@devbhoomimedia.com अथवा हमारे WhatsApp नंबर 7579007807 पर भेज सकते हैं। हम आपके आभारी रहेंगे