नौकरी का झांसा देकर रूपये ठगने वाले को पुलिस ने मुरादाबाद से किया गिरफ़्तार

0
417

मुख्यमंत्री कार्यालय और ऊर्जा सचिव के नाम का कर रहा था ठग इस्तेमाल 

नौकरी पाने के शार्ट कट रास्ते में जाने से बचें और यदि उनके पास इस तरह के फ़ोन आते हैं तो वे पुलिस से करें संपर्क : अशोक कुमार 

देवभूमि मीडिया ब्यूरो 
चमोली : नौकरी का झांसा देकर बेरोज़गार युवकों को रूपये ठगने वाले गिरोह के सरगना को चमोली पुलिस ने आज मुरादाबाद से गिरफ्तार करने से सफलता प्राप्त की है। पुलिस महानिदेशक अपराध एवं कानून व्यवस्था श्री अशोक कुमार ने बताया कि आरोपी मोहम्मद यासीन को जांच में लगी चमोली पुलिस ने मुरादाबाद से गिरफ्तार किया है जबकि उसके अन्य साथियों की गिरफ्तारी के प्रयास किए जा रहे हैं।  उन्होंने कहा बेरोज़गार युवकों से इस तरह की ठगी अब नहीं होने दी जाएगी। उन्होंने उत्तराखंड के बेरोज़गार युवाओं से कहा की वे नौकरी पाने के शार्ट कट रास्ते में जाने से बचें और यदि उनके पास इस तरह के फ़ोन आते हैं तो वे पुलिस से संपर्क करें।
प्राप्त जानकारी के अनुसार दिनाँक 23.09.2020 को थाना गोपेश्वर में श्री गणेश ध्यानी पुत्र श्री प्रमोद कुमार ध्यानी निवासी निकट गोपीनाथ मंदिर गोपेश्वर चमोली ने सूचना दी कि दिनाँक 19/09/2020 को 9027723995 से इन्हें फ़ोन आया कि वह संजय त्यागी उत्तराखंड ऊर्जा सचिव बोल रहा है। जिसने बताया कि आपकी नौकरी के लिए उसको मुख्यमंत्री जी के यहां से कहा गया है । पांच मिनट के अंदर सचिवालय आएं शिकायतकर्ता द्वारा बताया गया कि मैं अभी गोपेश्वर में हूँ और कोई जानने वाला भी नहीं है। फिर उसने कहा कि अपनें पेशकार से कहकर आपका काम करवाता हूँ। मेरा पेशकार अमित कुमार है।  अमित कुमार के खाते  में पैसा डालते रहो तुम्हारे कागज साइन होते रहेंगे और बैंक ऑफ बड़ौदा का खाता नंबर 40158100002657 दिया गया और झांसा देकर शिकायतकर्ता से अलग अलग किस्तों में कुल 45,000/- रुपये ले लिए और कहा गया कि डी0एम0 आफिस में चले जाओ वही पर आपका नौकरी का  लेटर आएगा । शिकायतकर्ता को नौकरी का झांसा देकर धोखेबाजी से पैसा लिया गया है।
सूचना पर तत्काळ कार्यवाही करते हुए थाना गोपेश्वर में मु0 अ0सँ0 29/2020 धारा 420 भा0द0वि0 पंजीकृत किया गया है। अभियोग में पतारसी के दौरान घटना में संलिप्त व्यक्तियों का लोकेशन मुरादाबाद उ0प्र0 आया है जिसकी तस्दीक गिरफ्तारी अन्य आवश्यक कार्यवाही हेतु जनपद चमोली से अभियोग के विवेचक उ0नि0 संदीप चौहान, एस0ओ0जी0 प्रभारी उ0नि0 संजीव चौहान मय टीम के मुरादाबाद दबिश में रवाना किए गए है। घटना में संलिप्त अन्य अभियुक्तों की गिरफ्तारी हेतु हर संभव प्रयास जारी है।