लॉकडाउन में देहरादून के बोर्डिंग स्कूल में नाबालिग छात्र को दी गयी शारीरिक प्रताड़ना

0
575

परिजन नोएडा से पहुंचे रायपुर थाने,DM को दी थी ट्वीट से सूचना

देवभूमि मीडिया ब्यूरो 
देहरादून : लॉकडौन lockdown के दौरान देहरादून के रायपुर थाने के तहत एक बोर्डिंग स्कूल में नाबालिग छात्र के साथ शारीरिक प्रताड़ना का सनसनीखेज मामला प्रकाश में आया है। पीड़ित पक्ष के परिजन शनिवार की दोपहर रायपुर थाने पहुंच गए। परिजन पुलिस अधिकारियों से कानूनी कार्रवाई की मांग कर रहे हैं।
मिली जानकारी के मुताबिक लॉकडौन में छात्र यही फंस गया था। नोएडा निवासी बच्चे के parents ने DM, देहरादून को ट्वीट कर इस शर्मनाक घटना की जानकारी दी। लॉकडौन के दौरान parents बच्चे को लेने देहरादून नही आ पाए थे। नौ वर्षीय छात्र स्कूल के एक कर्मचारी के घर रह रहा था।
मिली जानकारी के अनुसार दो महीने के दौरान छात्र को शारीरिक प्रताड़ना दी गई। बीती 3 जून को जब अभिभावक देहरादून आये तो बच्चे ने पूरा मामला बताया। यह बात पता चलते ही देहरादून के DM व पुलिस को ट्वीट के जरिए जानकारी दी गई। इस मामले में स्कूल प्रबंधन से जुड़े कर्मचारी से पूछताछ की भी खबर है। वहीं परिजनों के आज दोपहर रायपुर थाने पहुंचने से मामला गर्मा गया है।
पीड़ित बच्चे के परिजनों ने रायपुर थाने में दी गयी तहरीर में लॉकडौन के दौरान नोएडा से देहरादून नही आ पाने की स्थितियों का उल्लेख किया है। थाने में दी गयी तहरीर में सहस्त्रधारा के bevelery shalini hilss boarding स्कूल के वार्डन हरीश पर child molestation सहित कई अन्य आरोप लगाए हैं। तहरीर में कहा गया कि वार्डन बच्चे को बेचने की भी धमकी देता था। देर सांय तक परिजन मुकदमा दर्ज होने के इंतजार में थाने में ही डटे हुए हैं।