मुंबई कमिश्नर की आलोचकों को चुनौती : सुशांत केस में जो भी जानते हो करें उसका खुलासा

0
265

मुझे आश्चर्य नहीं हुआ, कूपर अस्पताल की टीम का भी ये ही निष्कर्ष था : पुलिस आयुक्त परमबीर सिंह 

देवभूमि मीडिया ब्यूरो 

सीबीआई प्रमुख से नई फॉरेंसिक टीम गठित करने का अनुरोध करेंगे

अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत के परिवार के वकील विकास सिंह ने कहा कि सीबीआई को सौंपी गयी एम्स की राय से वह बहुत परेशान हैं।
उन्होंने कहा कि वह जांच एजेंसी के प्रमुख से अनुरोध करेंगे कि मामले में नयी फॉरेंसिक टीम का गठन किया जाए। एम्स मेडिकल बोर्ड द्वारा राजपूत की हत्या की आशंका से इनकार किए जाने पर सवाल उठाते हुए वरिष्ठ वकील सिंह ने कहा कि विशेषज्ञ टीम अभिनेता के शव के बिना कैसे निर्णायक राय दे सकती है।
सिंह ने ट्वीट कर कहा था कि एम्स की रिपोर्ट से काफी परेशान हूं। सीबीआई निदेशक से एक नयी फॉरेंसिक टीम गठित करने का अनुरोध करने जा रहा हूं।
मुंबई :  पुलिस आयुक्त परमबीर सिंह ने एम्स की रिपोर्ट में अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत मामले में हत्या की बात से इनकार किये जाने पर सोमवार को कहा कि मुझे आश्चर्य नहीं हुआ, कूपर अस्पताल की टीम का भी ये ही निष्कर्ष था। इससे पहले उन्होंने कहा था कि मुंबई पुलिस अपनी जांच के नतीजों पर कायम है। 
मुंबई पुलिस आयुक्त ने कहा कि जिन लोगों ने बिना किसी जानकारी के हमारी जांच की आलोचना की, विभिन्न चैनलों पर जाकर टिप्पणियां कीं, मैं उन्हें यह खुलासा करने की चुनौती देता हूं कि वे जो जानते हैं, जांच अभी पूरी तरह से गोपनीय है। यह सभी निहित स्वार्थों और एक मोटिवेटिड कैंपेन था। 
गौरतलब है कि एम्स के मेडिकल बोर्ड ने शनिवार को कहा कि राजपूत की मौत आत्महत्या से हुई और यह हत्या का मामला नहीं है। इस खबर पर सिंह ने कहा था कि शहर पुलिस की जांच पेशेवर थी और पोस्टमॉर्टम करने वाले शहर के कूपर अस्पताल के चिकित्सकों ने भी अपना काम बखूबी किया।  पुलिस आयुक्त ने कहा कि हम सभी एम्स के इन निष्कर्षों से सहमत हैं।
गौरतलब हो कि एम्स के फॉरेंसिक प्रमुख सुधीर गुप्ता ने शनिवार को कहा था कि मेडिकल बोर्ड ने अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत की मौत के मामले में हत्या से इनकार किया है और इसे ‘आत्महत्या का मामला’ कहा है।