दून में लिट्रेचर फैस्ट 17 व 18 फरवरी को..

0
322

ओएनजीसी आॅफिसर्स क्लब में आयोजित होगा

देहरादून । दो दिवसीय देहरादून लिट्रेचर फैस्ट का पहला संस्करण 17 व 18 फरवरी को ओएनजीसी आॅफिसर्स क्लब में आयोजित होगा। दो दिवसीय फैस्ट में बेहतरीन व प्रशंसनीय भारतीय कलाकार, विभिन्न क्षेत्रों के लेखक, थिएटर जगत के कलाकार, व्यापार जगत के नेता व अन्य क्षेत्रों की प्रख्यात हस्तियां फैस्ट की मेजबानी करेंगे।

हेड्स अप कैनवास, हयूमन्स फाॅर हयूमैनिटी एनजीओ और बुक वल्र्ड के आपसी सहयोग द्वारा फैस्ट का आयोजन किया जा रहा है। इस दो दिवसीय फेस्ट में साहित्यकार, शिक्षाविदों्, पत्रकारों, कलाकारों, संगीतकारों, लिंग समानता, राजनीतिक विचारों, राजनीति व साहित्य के मुद्दों पर देशभर के प्रख्यात 42 लेखक चर्चा में भाग लेंगे। इसके अलावा पहाड़ों, जल, जंगल, जमीन, उर्दू, पौराणिक कथाओं पर आाधारित, हास्य पर आाधारित, किशोरों के लिए विशेष सत्र व अन्य विभिन्न विषयों पर सत्र आयोजित होंगे। इस दो दिवसीय फैस्ट में कुल 16 सत्र आयोजित होंगे।

पीयूष मिश्रा, लक्ष्मी नारायण त्रिपाठी, सुचित्रा कृष्णामूर्ति, पद्मश्री अशोक चक्रधर सावी शर्मा, डाॅ. रक्षंदा जलिल, दिव्या प्रकाश दुबे, डाॅ. बिजयलक्ष्मी नंदा, हृदयेश जोशी, रिचा सांबी, गीतकार व पठकथा लेखक राज शेखर व अन्य प्रख्यात हस्तियां फैस्ट में हिस्सा लेंगे।

यहां आयोजित पत्रकार वार्ता में हेड्स अप के निदेशक सम्रान्त विरमानी ने कहा कि यह दो दिवसीय देहरादून लिट्रेचर फैस्ट युवाओं को साहित्य के प्रति उत्साहित करने का कार्य करेगा। कार्यक्रम में उपस्थित पैनलिस्ट दून घाटी के हजारों लोगों के साथ बातचीत कर साहित्य के प्रति उन्हें जागरूक करने का प्रयास भी करेंगे। देश-भर के प्रख्यात लेखक फैस्ट में भाग लेंगे। देहरादून लिट्रेचर फैस्ट के महत्व पर प्रकाश डालते हुए हयूमन्स फाॅर हयूमैनिटी एनजीओ से अनुराग चैहान ने कहा कि, डीएलएफ 2017 का मुख्य उदृदेश्य शिक्षा की राजधानी कहे जाने वाले देहरादून शहर में भारत सहित विदेशों के प्रख्यात लेखकों को रूबरू करवाना है, जिससे लोगों व छात्रों की रूचि बढ़ेगी व उन्हें प्रोत्साहन भी मिलेगा। इस फैस्ट में भारी संख्या में अन्य राज्यों से लोग शिरकत करेंगे जिससे राज्य में पर्यटन को भी बढ़ावा मिलेगा।

बुक वल्र्ड के रणधीर अरोड़ा ने कहा कि यह साहित्यिक प्रवृत्तियों को उजागर करने के लिए एक अद्भुत मंच होगा। जिसमें राष्ट्रीय लेखकों के साथ बातचीत करने के लिए उपस्थित लोगों को मौका मिलने के साथ प्रोत्साहन भी मिलेगा। धर्मेंद्र सेठी ने देहरादून लिट्रेचर फैस्ट पर अपने विचार व्यक्त करते हुए कहा कि, आजकल के छात्रों में आॅनलाइन लेख पढ़ने के प्रति अधिक रूचि देखने को मिल रही है, और कहीं न कहीं छात्रों में पढ़ाई व साहित्य के प्रति रूचि बढ़ी है, डीएलएफ एक ऐसा मंच होगा जहां छात्रों को एक ही जगह पर विभिन्न विषयों के प्रति जागरूक करेगा व छात्रों की रोचकता को बढ़ाने में अहम भूमिका निभाएगा। इस मौके पर निमीष, धर्मेंद्र सेठी, हृदयेश जोशी, व अन्य लोग उपस्थित थे।