मंत्रिमंडल विस्तार को हरी झंडी मिलते ही दिल्ली में लगा विधायकों का मेला

कुछ सांसद भी आला नेताओं से अपने चहेते विधायक को मंत्री बनाने में जुटे

0
523

राज्य मंत्री भी कैबिनेट मंत्री बनने के लिए दौड़ में शामिल 

दिल्ली का उत्तराखंड सदन हुआ ”हाउस फुल”

राजेन्द्र जोशी 

नई दिल्ली : मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने शनिवार को दिल्ली में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मुलाकात मुलाकात के दौरान प्रदेश में मंत्रिमंडल के विस्तार की चर्चा की खबर बाहर क्या आई कि उत्तराखंड में अपने -पाने क्षेत्रों में दौड़ भाग कर रहे वरिष्ठ विधायकों ने दिल्ली का रुख कर दिया।जबकि टिहरी सांसद माला राज्यलक्ष्मी शाह भी इंडिगो की आखिरी  फ्लाइट से दिल्ली पहुँच गई हैं। परिणाम स्वरूप दिल्ली का उत्तराखंड सदन ”हाउस फुल” हो गया।  एक जानकारी के अनुसार सोमवार को इस संबंध में संगठन के शीर्ष नेताओं से पार्टी के प्रदेश के नेताओं की बैठक होने वाली है। 

गौरतलब हो कि उत्तराखंड में वर्तमान में तीन मंत्रियों की कुर्सियां खाली हैं और जिनपर भाजपा के वरिष्ठ विधायकों की नज़रें गाढ़ी हुई हैं। मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत की प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ मुलाकात के दौरान जहां राज्य में विकास कार्यो पर चर्चा हुई वहीं उन्होंने मंत्रिमंडल विस्तार का मामला प्रधानमंत्री के समक्ष रखा था। 

त्रिवेंद्र सिंह रावत मंत्रिमंडल में फिलवक्त तीन पद रिक्त हैं।वहीँ मुख्यमंत्री भी कुछ दिन पहले इस बात का खुलासा कर चुके हैं कि अब उन्हें मंत्रियों की जरुरत महसूस हो रही है जबकि नवनियुक्त प्रदेश अध्यक्ष बंशीधर भगत भी पार्टी के भीतर से उठ रही आवाज के बाद मंत्रिमंडल विस्तार की जरूरत बता रहे हैं। इस बीच मंत्रीमंडल विस्तार की चर्चाओं के बीच अब सत्तारूढ़ भाजपा विधायकों का दिल्ली में मेला लग गया है। इनमें कुछ राज्य मंत्री भी शामिल हैं जो अपने को कैबिनेट मंत्री  कुर्सी चाहते हैं। मंत्रीमंडल में स्थान पाने की जुगत में पार्टी के राज्य मंत्री व विधायक दिल्ली पहुंच गए हैं और इन लोगों ने  यहाँ अपने अपने आकाओं के चक्कर लगाने शुरू कर दिए हैं।