केदारनाथ यात्रा को पटरी पर लाई कांग्रेस सरकार : रावत

0
245

केदारनाथ प्रत्याशी के पक्ष में की मतदान की अपील

रुद्रप्रयाग । कांग्रेस सरकार की मेहनत का ही नतीजा है कि केदारनाथ यात्रा पटरी पर लौट आई है। आज केदारघाटी के आपदा पीडि़तों को रोजगार मिल रहा है और होटल, लाॅज, ढाबा संचालकों का व्यवसाय चलने से आजीविका सुधर रही है। भाजपा के केन्द्र के भाजपा नेता जनता को बरगलाने की कोशिश कर रहे हैं। ऐसे में जनता को संभलने की जरूरत हैं। गुप्तका”ाी के मस्ता में कांग्रेस प्रत्याशी मनोज रावत के समर्थन में जनसभा को संबोधित करते हुए मुख्यमंत्री हरीश रावत ने यह बात कही।

सीएम रावत ने कहा कि केदारनाथ यात्रा को पटरी पर लाने में कांग्रेस सरकार ने कड़ी मेहनत की है। आज केदार यात्रा में लाखों की संख्या में यात्री आने लगे हैं, जिससे आपदा पीडि़तों को रोजगार और व्यापारियों का व्यवसाय भी तेजी से चल रहा है। उन्होंने कहा कि आपदा के बाद सबसे पहले रुद्रप्रयाग से सोनप्रयाग तक राष्ट्रीय जमार्ग का निर्माण करवाया, जिससे लोगों कीमुश्किलें  कम हुई हैं। सीएम रावत ने कहा कि केदारघाटी की जनता कांग्रेस का साथ दें। आपदा के बाद अब तक पैंतीस से अधिक दौरे केदारनाथ और केदारघाटी के लगाये जा चुके हैं। इन दौरों से जनता का विकास हुआ है।

मुख्यमंत्री  ने कहा कि केन्द्र के भाजपा नेता जनता के मन में भ्रम की स्थिति पैदा कर रहे हैं। झूठे वायदों से जनता को गुमराह करने का प्रयास किया जा रहा है। ऐसे नेताओं से सजग रहने की जरूरत है। उन्होंने कांग्रेस के पक्ष में मतदान की अपील की। कांग्रेस प्रत्याशी  मनोज रावत ने कहा कि केदारघाटी का विकास कांग्रेस सरकार ने किया है। बेरोजगार लोगों को रोजगार के नये आयाम स्थापित हुए हैं। आपदा पीडि़तों को मुआवजा देने के साथ ही सरकार ने पहाड़ी व्यंजनों को भी प्राथमिकता दी है। कोदा-झंगोरा की बात करने वाले सीएम रावत ने पहाड़ी जनता के विकास में कोई कोर कसर नहीं छोड़ी है। इस मौके पर आनंद सिंह रावत, बसंती देवी, संगीता नेगी, योगम्बर सिंह नेगी, उमा कैंतुरा सहित सैकड़ों की संख्या में कार्यकर्ता मौजूद थे।

Previous articleप्रशंसकों का अभिवादन कर दून से विदा हुए क्रिकेटर धोनी
Next articleदागी व बागी प्रत्याशी को जनता ही नकारेगी : आशा
Disclaimer (अस्वीकरण) : देवभूमि मीडिया.कॉम हर पक्ष के विचारों और नज़रिए को अपने यहां समाहित करने के लिए प्रतिबद्ध है। यह जरूरी नहीं है कि हम यहां प्रकाशित सभी विचारों से सहमत हों। लेकिन हम सबकी अभिव्यक्ति की आज़ादी के अधिकार का समर्थन करते हैं। ऐसे स्वतंत्र लेखक,ब्लॉगर और स्तंभकार जो देवभूमि मीडिया.कॉम के कर्मचारी नहीं हैं, उनके लेख, सूचनाएं या उनके द्वारा व्यक्त किया गया विचार उनका निजी है, यह देवभूमि मीडिया.कॉम का नज़रिया नहीं है और नहीं कहा जा सकता है। ऐसी किसी चीज की जवाबदेही या उत्तरदायित्व देवभूमि मीडिया.कॉम की किसी भी तरह से नहीं होगी। धन्यवाद ! आवश्यक सूचना :- आप अपने क्षेत्र की समाचार,सूचनाएं या शिकायत editor@devbhoomimedia.com पर भेज सकते हैं, साथ में सम्बंधित का मोबाइल भी देंगे तो अच्छा रहेगा ताकि सम्बंधित का पक्ष भी सामने लाया जा सके।