काशीपुर व रूद्रपुर भी प्रदूषित हवा वाले शहरों में शामिल

0
366

आर.एस.पी.एम लेविल सामान्य से चौगुने से भी अधिक
प्रदूषण बोर्ड द्वारा उपलब्ध करायी गयी सूचना से हुआ खुलासा

देवभूमि मीडिया ब्यूरो 

काशीपुर। स्वच्छ व स्वथ्य हवा वाले माने जाने वाले प्रदेश उत्तराखंड के दो प्रमुख शहर प्रदूषित हवा वाले शहरों में शामिल हो रहे हैै। यहां की हवा बड़े शहरों के समान विभिन्न दिनों में सांस लेने के लिये भी खतरनाक हो जाती है। यहां आर.एस.पी.एम.लेविल सामान्य से चैगुने से भी अधिक पहुंच जा रहा है। यह खुलासा उत्तराखंड पर्यावरण संरक्षण एवं प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड द्वारा सूचना अधिकार के अन्तर्गत नदीम उद्दीन को उपलब्ध करायी सूचना से हुआ है।

काशीपुर निवासी सूचना अधिकार कार्यकर्ता नदीम उद्दीन एडवोकेट ने उत्तराखंड पर्यावरण संरक्षण एवं प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड से प्रदूषण मानीटरिंग के विवरणों की सूचना मांगी थी। इसके उत्तर में उत्तराखंड पर्यावरण संरक्षण एवं प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड के लोेक सूचना अधिकारी/क्षेत्रीय अधिकारी (प्र0) ने अपनेे पत्रांक 1183 – दिनांक 19-12-2019 से 2014 से 2017 तक अधिक प्रदूषण वाले माहो अक्टूबर, नवम्बर तथा 2018 व 2019 के सभी महीनोें के प्रदूषण मानीटरिंग विवरणोें की प्रति उपलब्ध करायी हैै।

श्री नदीम को उपलब्ध विवरणों के अनुसार अक्टूबर 2019 में काशीपुर का आर.एस.पी.एम.लेविल 366 तथा रूद्रपुर का 364 रहा है जबकि सरकारी अस्पताल पर मापे गयेे इस आर.एस.पी.एम. की अधिकतम सामान्य माप 75 होनी चाहिये। 2018 में नवम्बर में सर्वाधिक आर.एस.पी.एम. रहा है, यह काशीपुर सरकारी अस्पताल पर 258 तथा रूद्रपुर में 234 मापा गया हैै।

श्री नदीम को उपलब्ध सूचना में स्पष्ट हैै कि वर्ष 2019 जनवरी में काशीपुर का अधिकतम आर.एस.पी.एम. 137 जबकि रूद्रपुर का 219, फरवरी मेें 134 तथा 140, मार्च में 145 व 143, अप्रैल में 163 और 191, मई में 150 तथा 140, जून में 175 तथा 146, जुलाई में 150 व 142, अगस्त में 152 तथा रूद्रपुर में 137, सितम्बर में 142 तथा 138, अक्टूबर में 366 व 364 तथा नवम्बर में काशीपुर में अधिकतम आर.एस.पी.एम. 197 तथा रूद्रपुर में 162 रहा हैै।

वर्ष 2019 में वर्ष भर कभी भी मापने के समय आर.एस.पी.एम. सामान्य 75 नहीं रहा हैै। यह न्यूनतम रहे आर.एस.पी.एम. के आंकड़ों से स्पष्ट हैै। जनवरी 2019 में सरकारी अस्पताल काशीपुर पर मापा गया न्यूनतम आर.एस.पी.एम. 78 जबकि रूद्रपुर सरकारी अस्पताल पर मापा न्यूनतम आर.एस.पी.एम. 109 रहा है। फरवरी में यह 96 और 102, मार्च में 94 व 112, अप्रैल में 87 व 106, मई में 112 और 105, जून में दोनोें स्थानों पर 110, जुलाई में काशीपुर में 107 रूद्रपुर में 119, अगस्त में 106 व 118, सितम्बर में 109 व 90 अक्टूबर में 106 व 120 तथा नवम्बर 2019 में काशीपुर में न्यूनतम 107 तथा रूद्रपुुर में 125 न्यूनतम आर.एस.पी.एम. मापा गया है।

श्री नदीम कोे उपलब्ध पिछले वर्षों के अधिक प्रदूषण वालेे महीनोें अक्टुुबर तथा नवम्बर के आंकड़ों से स्पष्ट हैै कि काशीपुर औैर रूद्रपुर में हवा में जहर तेजी सेे बढ़ा है। जहां अक्टूबर 2014 में काशीपुर का अधिकतम आर.एस.पी.एम. 214 तथा रूद्रपुर का 176 था जबकि नवम्बर 14 में 254 तथा 224 था। अक्टूबर 15 में काशीपुर के अधिकतम आर.एस.पी.एम. 167 तथा रूद्रपुर में 168 तथा नवम्बर 15 में 281 तथा 234 था। अक्टूबर 16 में काशीपर में अधिकतम 263 तथा रूद्रपुर में 264 नवम्बर 16 में दोनों स्थानों पर 262 था। अक्टूबर 17 में काशीपुर में 184 तथा रूद्रपुर में 132, जबकि नवम्बर 17 में 192 तथा 113 था।

2018 तक के आंकड़ों से स्पष्ट हैै कि 2018 तक हवा में आर.एस.पी.एम. का स्तर विभिन्न दिनों व समय पर सामान्य 75 तक रहता था जबकि 2019 में रूद्रपुर तथा काशीपुर दोनोें ही शहरों में एक भी माप में यह लेविल सामान्य या उससे कम नहीं आया हैै।

2018 में काशीपुर में मई, जून तथा दिसम्बर को छोेड़कर सभी माहो का न्यनूतम आर.एस.पी.एम. लेविल सामान्य था जबकि मई में 77, जून में 103 तथा दिसम्बर में 81 ही रहा था। रूद्रपुर में 2018 में भी किसी भी माह का न्यूनतम लेविल सामान्य नहीं था।