मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र ने युवाओं से की खुलकर बात

 

‘मेरे युवा, मेरी शान’ में इन बिंदुओं पर हुई चर्चा 

-उत्तराखंड में बढ़ते पलायन पर कैसे रोक लगे?
-युवाओं के लिये रोजगार के अवसर कैसे बढ़ें?
-प्रदेश के भविष्य को लेकर क्या सोचते हैं युवा?
-राज्य की उन्नति में युवाओं की सहभागिता कैसे बढ़े?
-उत्तराखंड के अब तक के सफर पर क्या है युवाओं की राय?

देवभूमि मीडिया ब्यूरो 

अल्मोड़ा : प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने कार्यक्रम के उद्घाटन सत्र को संबोधित करते हुए कहा कि युवाओं के चेहरे पर मुस्कराहट होनी चाहिए यह मैं इस लिए कह रहा हूँ कि यदि युवाओं के चेहरे पर मुस्कराहट होगी तो देश के चेहरे पर मुस्कराहट होगी। उन्होंने कहा इस कार्यक्रम से यह भी पता चलेगा कि युवाओं की सरकारों से क्या अपेक्षा है। उन्होंने कहा हमने सरकार का पिछला बजट युवाओं से पूछकर बनाया हालाँकि हमारी कई विवशताएँ भी हैं लेकिन इसके बावजूद युवाओं को महत्व दिया।

उन्होंने कहा देश में सर्वाधिक फिल्मों की अब उत्तराखंड में होनी शुरू हो गयी है। जिसके लिए हमें सर्वश्रेष्ठ फिल्म डेस्टिनेशन अवार्ड मिला है। और यह मुस्कराहट दुनिया को हमारी सफलता और सम्पन्नता का प्रतीत होगी

यहां प्रकृति और युवा पीढ़ी : त्रिवेंद्र 

मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने कहा कि उत्तराखंड की खासियत है कि यहां प्रकृति और युवा पीढ़ी। भविष्य का उत्तराखंड देश के लिए आकर्षण का केंद्र बन रहा है। राज्य में एडवेंचर का क्षेत्र विकसित हो रहा है। हमने एडवेंचर गेम के लिए एक अलग विभाग की घोषणा की है। मुख्यमंत्री ने अपील की कि हमें प्रकृति का बिना दोहन किए, उसके संसाधनों का उपयोग करना है। उन्होंने कहा कि देश हो या विदेश सर्विस सेक्टर में हमारे लोग अच्छा काम कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि सर्विस सेक्टर ही हमारा उद्धार करने वाला है। उत्तराखंड के लिए सर्विस सेक्टर ही सबसे बड़ा है।

उत्तराखंड के कल यानी भविष्य को लेकर अल्मोड़ा में युवा सम्मेलन में प्रदेश सरकार ने आयोजित युवा सम्मेलन ‘मेरे युवा, मेरी शान’ के तहत प्रदेशभर से जुट रहे युवाओं से प्रदेश की ज्वलंत समस्याओं पर रायशुमारी के साथ सुझाव लिये ।

अल्मोड़ा स्थित उदयशंकर नृत्य एवं संगीत अकादमी में मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत और केंद्रीय युवा एवं खेल राज्यमंत्री किरेन रिजिजू ने युवा सम्मेलन कार्यक्रम का दीप प्रजवल्लित कर उद्घाटन किया।

‘भारत को खेलों में टॉप 10 में लाने की कोशिश’ : रिजिजू

रिजिजू ने कहा कि 2028 में भारत को खेलों में टॉप 10 में लाने का प्रयास है। खेल मंत्री ने कहा कि खेल में सबसे अच्छा करना हमारा लक्ष्य है। खेलों इंडिया के तहत खिलाड़ियों को आगे बढ़ाने का लक्ष्य है। खिलाड़ियों को और बेहतर बनाना है। किरेन रिजिजू ने कहा कि खिलाड़ियों के साथ खड़े रहने के लिए ही मैं खेल मंत्री बना। उन्होंने कहा कि मैं हर खिलाड़ी से पर्सनली मिलता हूं। खेल और खुराक हम हर खिलाड़ी को पूरा देना चाहते हैं। उन्होंने कहा कि किसी भी खेल का सक्सेस ट्रेनिंग है।

ओलपिंक में हमारा झंडा लहराएगा: रिजिजू

रिजिजू ने कहा कि ओलपिंक में हमारा झंडा लहराएगा। जब मेडल जीतते हैं तो भारत का झंडा जब फहराता है तो खिलाड़ी रोते हैं। उन्होंने कहा कि मेरा दरवाजा देश के लिए खेल चुके खिलाड़ी के लिए हमेशा खुला है। अगर कोई खिलाड़ी देश के लिए खेला है और बीमार है तो उनके लिए हमने राशि रखी है। अगर हमसे नहीं मिल सकते हैं तो सोशल मीडिया पर टैग कर दें तो उसका खर्चा सरकार उठाएगी। लगातार मदद मिल रही है। जिन्होंने देश के लिए खेला है उसकी जिम्मेदारी सरकार को लेनी चाहिए इसलिए सरकार जिम्मेदारी ले रही है।

अल्मोड़ा के ऐतिहासिक दयाशंकर नृत्य एवं संगीत अकादमी के सभागार में आयोजित इस कार्यक्रम में देश विदेश में अपनी प्रतिभा का लोहा मनवा रहे युवाओं के साथ उत्तराखंड की भावी योजनाओं पर विस्तार से चर्चा हुई। कार्यक्रम में विभिन्न क्षेत्रों में काम कर रहे युवाओं ने कठिनाइयों से मुकाम कैसे हासिल किया अपने अनुभव कार्यक्रम में मौजूद लोगों से साझा किये । उन्होंने इस दौरान प्रदेश के भविष्य को लेकर सुझाव और सरकार से उन्हें क्या उम्मीदें हैं पर अपने विचार व्यक्त किये।

वहीं मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत और केंद्रीय युवा व खेल मंत्री किरेन रिजिजू ने उत्तराखंड के ऐसे युवाओं का सम्मान किया जो देश ही नहीं विदेशों में भी उत्तराखंड का परचम लहरा रहे हैं।

इन युवाओं का किया गया सम्मान

दीपक डोबरियाल, फिल्म अभिनेता
द्वारिका प्रसाद रतूड़ी, चीन में होटल कारोबार
पायल आर्य, अंटार्कटिका में सर्वेयर
विनय साह, अंतरराष्ट्रीय धावक
पायल सागर, भारतीय नौसेना में लेफ्टिनेंट कमांडर
पूनम, पर्वतारोही
प्रज्ञा जोशी, कराटे चैंपियन
रिद्धिमा पांडे, बाल पर्यावरण एक्टिविस्ट
देवयानी सेमवाल, माउंटेनियर
नैना अधिकारी, कयाकर
शीतल, पर्वतारोही
गौरव मनकोटी, रैपर
ईशान डोभाल, गायक-संगीतकार
संकल्प खेतवाल, गायक-संगीतकार
योगेश गब्र्याल, पर्वतारोही
मनोज सरकार, अंतरराष्ट्रीय बैडमिंटन खिलाड़ी
डा. भुवन जोशी, अंतरिक्ष वैज्ञानिक

Advertisements