• रुड़की मूर्ति विवाद : मेयर और विधायक समर्थक भिड़े, रातभर चला हंगामा
  • पुलिस ने दोनों तरफ से की क्रॉस रिपोर्ट दर्ज 

रुड़की : रुड़की के दो नेताओं ने देश कि आज़ादी में महत्वपूर्ण भूमिका निभाने वाले और अपने प्राणों को न्योछावर करने वाले चन्द्र शेखर आज़ाद कि मूर्ति लगाने पर विवाद पैदा कर डाला। यह मूर्ति सिविल लाइंस इलाके में लगाये जाने को लेकर विवाद की स्थिति पैदा हुई है। मामला बीती देर रात का है जहाँ विधायक प्रदीप बत्रा और मेयर यशपाल राणा के बीच जमकर झड़प हुई। इतना ही नहीं दोनों नेताओं के समर्थकों में भी जमकर आपस में भिडंत भी हुई है । पुलिस ने स्थिति बिगड़ते देख मौके पर भारी संख्या में पुलिस बल तैनात किया गया है। मामले में पुलिस ने दोनों तरफ से क्रॉस रिपोर्ट दर्ज की है।

गौरतलब हो कि बीते लगभग एक महीने से सिविल लाइंस में मूर्ति लगाने को लेकर विधायक और मेयर में विवाद चल रहा है। दोनों ही अलग-अलग स्थानों पर चंद्रशेखर आज़ाद की मूर्ति लगवाना चाहते हैं।आपस में विवाद के कारण पुलिस और हरिद्वार जिला प्रशासन ने मूर्ति स्थापना के काम पर रोक लगा दी थी । अब मूर्ति कि लेकर एक बार फिर बीती रात करीब साढ़े 12 बजे विधायक प्रदीप बत्रा और मेयर यशपाल राणा आमने सामने हो गये। पुलिस ने बताया कि बीती रात विधायक समर्थक कुछ लोग आजाद कि मूर्ति के पास झंडा लगा रहे थे।

वहीँ इसी दौरान मेयर समर्थकों ने झंडा लगाये जाने का विरोध कर दोनों के समर्थक आपस में भिड़ गए। वहीँ इसके बाद मौके पर पहुंचे विधायक और मेयर भी आपस में उलझ गए। भिडंत में दोनों के कई समर्थक आपसी मारपीट में घायल भी हुए हैं। पुलिस का आरोप है कि रोक के बावजूद रात को ही विधायक प्रदीप बत्रा और समर्थक निर्माण करने पहुंचे थे। इसी बीच मेयर और उसके समर्थक भी वहां पहुंच गए। इनमें जमकर मारपीट हो गयी। इस दौरान पुलिस से भी धक्का-मुक्की हो गयी।

इतना ही नहीं मामला इतना ज्यादा फ़ैल गया कि मौके पर बीजेपी की ओर से झबरेड़ा विधायक देशराज कर्णवाल, सुबोध राकेश भी रात को मौके पर आ गए। वहीँ बवाल की सूचना पर एसएसपी भी हरिद्वार से रूडकी मौके पर पहुंचे और उन्होंने जैसे-तैसे दोनों के बीच पड़कर मामला शांत कराया। जिला प्रशासन ने शांति व्यवस्था कायम करने को लेकर मौके पर पुलिस बल तैनात किया है। मामले में अब तक पुलिस ने मेयर राणा पक्ष की तरफ से विधायक प्रदीप बत्रा समेत तीन लोगों, जबकि विधायक बत्रा पक्ष ने मेयर समेत पांच अन्य लोगों पर मारपीट का मुकदमा दर्ज कराया है।