राजस्थान : खतरे में गहलोत सरकार, भाजपा नेतृत्‍व के संपर्क में पायलट

0
308

सचिन पायलट : सोमवार को कांग्रेस विधायक दल की बैठक में शामिल होने वे जयपुर नहीं जाएंगे

देवभूमि मीडिया ब्यूरो
नई दिल्ली । उपमुख्यमंत्री सचिन पायलट के कड़े बगावती तेवरों ने राजस्थान में कांग्रेस की सरकार को गंभीर खतरे में डाल दिया है। कांग्रेस हाईकमान के संकट समाधान का मसला हाथ में लेने के बाद भी सचिन पायलट ने मुख्यमंत्री अशोक गहलोत से आर-पार की जंग का खुला ऐलान करते हुए दावा किया कि 30 से अधिक विधायक उनके साथ हैं।
वहीं पायलट ने कई निर्दलीय विधायकों का समर्थन हासिल होने की बात कह गहलोत सरकार के अल्पमत में होने का भी दावा कर दिया। सूत्रों ने बताया है कि कांग्रेस के इस अंदरूनी घमासान के बीच सचिन पायलट भाजपा से सीधे संपर्क में हैं और राजस्थान में मध्यप्रदेश की कहानी दोहराए जाने की संभावनाएं तेज होने लगी हैं।
गहलोत सरकार का तख्ता पलटने तक का कदम उठाने से नहीं हिचकने का संदेश देते हुए सचिन पायलट ने एक बयान जारी कर यह भी साफ कर दिया कि सोमवार को कांग्रेस विधायक दल की बैठक में शामिल होने वे जयपुर नहीं जाएंगे। पायलट इस समय अपने कुछ समर्थक विधायकों के साथ दिल्ली में हैं। पायलट के वाट्स एप मीडिया ग्रुप में उनके हवाले से यह बात कही गई। वैसे दिल्ली में मौजूद रहते हुए भी रविवार को कांग्रेस नेताओं से बातचीत बंद कर पायलट ने अपनी नाराजगी की गंभीरता का संदेश दे दिया था।