पूर्व सीएम त्रिवेन्द्र ने अमर शहीद अवंती बाई लोधी के नाम पर रखा कुडका वाला रोड का नाम

0
410

वीरांगना अवंती बाई लोधी का 1857 के स्वतंत्रता संग्राम में रहा महत्वपूर्ण योगदान : त्रिवेन्द्र रावत 

उत्तराखंड के लोग निर्माणकर्ता है उन्हें  हुनर को इस्तेमाल कर, रचनात्मक सोच के साथ स्वयं रोजगार स्थापित करना चाहिए

देवभूमि मीडिया ब्यूरो 
देहरादून : पूर्व मुख्यमंत्री व क्षेत्रीय विधायक श्री त्रिवेंद्र सिंह रावत जी ने आज डोईवाला की नगर पालिका परिषद के कुडका वाला रोड का नाम अमर शहीद अवंती बाई लोधी के नाम पर रखा। डोईवाला की प्रेम नगर पंचायती घर मारखम ग्रांट में इस कार्य का शुभारंभ पूर्व सीएम ने फ़ीता काटकर किया। वीरांगना अवन्तिबाई लोधी के बलिदान दिवस के आयोजन पर आयोजित कार्यक्रम का शुभारंभ उन्होंने दीप प्रज्वलित किया।
इस अवसर पर पूर्व मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने कहा कि वीरांगना अवंती बाई लोधी का 1857 के स्वतंत्रता संग्राम में महत्वपूर्ण योगदान है। स्वतंत्रता संग्राम आंदोलन में अमर शहीद वीरांगना रानी लक्ष्मी बाई से लेकर वीरांगना अवंती बाई लोधी ने अंग्रेजो के खिलाफ आजादी का युद्ध लड़ कर अपने प्राणों की शहादत दी। उनके बलिदान को भुलाया नहीं जा सकता है। ।
उन्होंने कहा कि राज्य में महिलाओं के सशक्तिकरण के लिये काफ़ी काम किया। देश का चौथा राज्य है उत्तराखंड जहां महिलाओं को कमांडो की ट्रेनिंग दी है। उन्होंने कहा कि महिलाओं को आत्मनिर्भर बनाने के लिये स्वयं सहायता समूह को ऋण के साथ साथ रिवॉल्विंग फंड भी दिया। महिलाएं अपने को अबला नही समझे। महिलाएं देश की शक्ति है।
उन्होंने कहा कि उत्तराखंड के लोग निर्माणकर्ता है। अतः हुनर को इस्तेमाल कर, रचनात्मक सोच के साथ स्वयं रोजगार स्थापित करना चाहिए। उन्होंने कहा कि पूरे प्रदेश की चिंता के साथ अब उन्हें डोईवाला के विकास कार्यों की ज़्यादा चिंता रहेगी। चार वर्ष तक उन्होंने अपनी पूरी ताकत से जितना भी हो सका पूरे प्रदेश के विकास के लिये कार्य करने का प्रयास किया .। अब डोईवाला के विकास पर ध्यान देना है।
इस अवसर पर राज्य मंत्री खेमपाल, वन राज्य मंत्री करण वोहरा, जिला अध्यक्ष भाजपा शमशेर पुंडीर, नगरपालिका अध्यक्ष सुमित्रा मनवाल, सभासद मनीष धीमान, सभासद सुनीता सैनी, शिवानी लोधी ,नगीना रानी, भाजपा मीडिया प्रभारी सम्पूर्ण सिंह रावत प्रकाश कोठारी आदि उपस्थित रहे। कार्यक्रम का संचालन रामेश्वर लोधी व पवन किया।