परिवहन मंत्री ने ली विभागीय अधिकारियों की समीक्षा बैठक

देहरादून । प्रदेश के परिवहन मंत्री यशपाल आर्य की अध्यक्षता में विधान सभा स्थित उनके कक्ष में परिवहन विभाग की समीक्षा बैठक आयोजित की गई। उन्होंने उच्चतम न्यायालय के सड़क सुरक्षा हेतु दिये गये दिशा-निर्देशों के अनुरूप आवश्यक प्रस्ताव एवं तथा प्रदेश की यातायात व्यवस्था के अध्ययन एवं उसमें सुधार के मध्यनजर प्रस्ताव बनाने हेतु एक विशेषज्ञ संस्था नामित करने के निर्देश दिये, जिसमें वाहन दुर्घटना को रोकने हेतु आवश्यक सुझावों को प्रस्ताव में शामिल किया जाय।
परिवहन मंत्री ने देहरादून, काशीपुर, रूद्रपुर, हल्द्वानी, हरिद्वार आदि प्रमुख शहरों की यातायात व्यवस्था बेहतर बनाने एवं दुर्घटना नियंत्रण विषयक अध्ययन भी संस्था से कराने एवं कार्य योजना तैयार कराने के निर्देश दिये। योजना में ट्रैफिक व्यवस्था बस स्टैंड के पुनरूद्धार, मेट्रो रेल की योजना को भी कार्ययोजना में शामिल कराने के निर्देश दिये। परिवहन मंत्री ने लोनिवि द्वारा चिन्हित ब्लैक स्पॉट को ठीक कराने विषयक सुझाव भी कार्य योजना में शामिल कराने के निर्देश दिये।

उन्होंने परिवहन विभाग के राजस्व लक्ष्य 660 करोड़ को बढ़ाने की रणनीति के तहत कार्य करने के निर्देश दिये तथा समाज कल्याण एवं अन्य विभागों में लम्बित परिवहन के धन की शासन को शीघ्र जारी कराने के निर्देश अधिकारियों को दिये। उन्होंने परिवहन निगम की ग्रीन सेस में उपलब्ध धनराशि से सड़क के किनारे यात्री शेड निर्माण एवं डिपो में स्थापना विकास में खर्च करने के निर्देश दिये।

उन्होंने जनपद के राष्ट्रीय राजमार्गों एवं राज्य राजमार्गां पर बाधा उत्पन्न करने वाले होल्डिंग को हटाये जाने का सख्ती से अनुपालन कराने के भी निर्देश दिये। उन्होंने वाहन दुर्घटना रोकने के लिए गुड स्मार्टियन गाइड लाईन का विस्तृत प्रचार-प्रसार करने के निर्देश दिये। परिवहन मंत्री ने तकनीकी आफीसर्स बढ़ाने, इन्फोर्समेन्ट स्क्वायड बढ़ाने, मोटर बाइक एंबुलेंस आदि के पूर्व निर्देशों की प्रगति की भी समीक्षा की।

Advertisements