• -रतनपुर-घेंघड़ दो किमी मोटरमार्ग का शुभारंभ
  • -विकास के नाम पर जनता के साथ हुआ छलावा
देवभूमि मीडिया ब्यूरो 
रुदप्रयाग । गर्व से कहो हम रुद्रप्रयाग वासी हैं, अब यह नारा साकार होता नजर आ रहा है। राज्य निर्माण के 18 सालों तक रुद्रप्रयाग विधानसभा का शोषण होता रहा। राज्य निर्माण के बाद बाहरी लोगों के पास यहां की सत्ता होने के कारण यहां का विकास नहीं हो पाया है और बाहरी लोगों ने विकास के नाम पर यहां की जनता के साथ छलावा के सिवाय कुछ नहीं किया है। 2017 के विधानसभा चुनाव में रुद्रप्रयाग की जनता ने बाहरी को नकारते हुये अपने में विश्वास किया है। अब जनता को वास्तविक धरातल पर विकास दिखाई दे रहा है। 
रतनपुर भरदार से घेंघड़ दो किमी नवनिर्माण मोटरमार्ग का उदघाटन करते हुये क्षेत्रीय विधायक भरत सिंह चौधरी ने कहा कि राज्य निर्माण के बाद रुद्रप्रयाग का विकास बाहरी जनप्रतिनिधियों के हाथों में चला गया था। जिस कारण आज भी यहां स्वास्थ्य, सड़क, शिक्षा, पेयजल की समस्या से जनता जूझ रही है। उन्होंने कहा कि दो वर्ष के कार्यकाल में आठ करोड़ की विधायक विकास निधि जनता को समर्पित कर चुका हूं और शिक्षा पर फोकस करते हुये बच्चों के भविष्य को संवारने का प्रयास किया जा रहा है।
श्री चौधरी ने कहा कि करोड़ की भरदार पेयजल योजना पर निर्माण कार्य चल रहा है और जनता को यातायात की सुविधा देने के लिये जवाड़ी दो किमी मोटरमार्ग का निर्माण कर चार किमी डामरीकरण का कार्य श्रीघ शुरू होगा और भ्यूंता से खरगेड़ लिंक मोटरमार्ग को जोड़ने का प्रयास कर रहा हूं। उन्होंने कहा कि सड़कों के निर्माण के लिये पूरे मनायोग से प्रयास किये जा रहे हैं। जनता को भी सहयोग करना चाहिये। इस अवसर पर पूर्व ज्येष्ठ प्रमुख शंकर राणा, प्रीतम सिंह पंवार, प्रधान घेंघड़ रामलाल शाह, प्रधान कांडा अमित रावत, पूर्व प्रधान शूरवीर सिंह रावत, पूर्व छात्र संघ अध्यक्ष प्रदीप पंवार, युवा नेता भूपेन्द्र भंडारी सहित भारी संख्या में जनता उपस्थित थी। कार्यक्रम का संचालन भरदार जनमंच विकास के अध्यक्ष लक्ष्मी प्रसाद डिमरी ने किया। 
Advertisements