कांग्रेस द्वारा आयोजित किए जा रहे धरना प्रदर्शन कार्यक्रम उसकी खिसियाहट का नतीजा : अजेंद्र अजय 

देवभूमि मीडिया ब्यूरो 

देहरादून । भारतीय जनता पार्टी ने कांग्रेस पर नकारात्मक राजनीति करने का आरोप लगाया है और कहा है कि अपने अस्तित्व बचाने की छटपराहट में कांग्रेस नेता बेवजह के मुद्दों को तूल दे रहे हैं।

भाजपा के प्रदेश मीडिया प्रभारी अजेंद्र अजय ने प्रदेश की त्रिवेन्द्र सरकार के तीन वर्ष पूरे होने के अवसर पर कांग्रेस द्वारा आयोजित किए जा रहे धरना प्रदर्शन कार्यक्रम को उसकी खिसियाहट का नतीजा बताया। उन्होंने कहा कि कांग्रेस अपने अस्तित्व की लडा़ई लड़ रही है इस छटपटाहट नेता प्रासंगिक बने रहेने के लिए ऊल जुलूल बयानबाजी व गतिविधियाॅ आयोजित करते रहते हैं। अजेंद्र ने कहा कि बेहतर होता है कि कांग्रेस और उसके नेता सकारात्मक विपक्ष की भूमिका निभाते और प्रदेश सरकार के तीन वर्ष पूरे होने पर आयोजित कार्यक्रमों में सहभागिता करते ।

उन्होने कहा कि प्रदेश सरकार द्वारा 18 मार्च को सभी विधानसभाओं में आयोजित होने वाले कार्यक्रमों के पीछे सरकार की जन कल्याणकारी योजनाओं को आमजन तक पहुचाना है। लिहाजा व्यापक जनहित में कांग्रेस को सकारात्मक दृष्टि अपनाते हुए इस कार्यक्रम का विरोध छोड़कर अपनी सहभागिता निभानी चाहिए।

भाजपा मीडिया प्रभारी ने पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत द्वारा कोरोना वायरस के चलते इन कार्यक्रमों पर सवाल उठाए जाने को भी हास्यास्पद बताया। उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार कोरोना वायरस को लेकर पूरी तरह से सतर्क है और मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत खुद नियमित रूप से इसकी मानिटरिंग कर रहे हैं।

उन्होने कहा कि प्रदेश सरकार के कार्यक्रमों पर सवाल उठाने से पहले पूर्व मुख्यमंत्री श्री रावत को कांग्रेस द्वारा 18 मार्च को आयोजित किए जा रहे धरना प्रदर्शन कार्यक्रम पर भी सवाल उठाना चाहिए। उन्होने कहा कि कांग्रेस खुद इतने बडे़ स्तर पर कार्यक्रम आयोजित कर रही है और श्री रावत प्रदेश सरकार को नसीहत दे रहे हैं। उन्होंने इन कार्यक्रमों पर हो रहे खर्चे पर भी पूर्व मुख्यमंत्री रावत के सवालों को गैर जरूरी बताया।