पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत भी THDC के बेचे जाने के खिलाफ ऋषिकेश में कर चुके हैं उपवास 

देवभूमि मीडिया ब्यूरो 

नई टिहरी : उत्तराखंड के वरिष्ठ कांग्रेसी नेताओं ने THDC के विनिवेश के खिलाफ THDC के भागीरथीपुरम स्थित कार्यालय में पहुंचकर पहले तो प्रदर्शन किया उसके बाद वहीं धरने पर बैठ गए। इस दौरान कांग्रेसी नेताओं ने केंद्र सरकार के खिलाफ जमकर सरकार के खिलाफ नारेबाजी भी की। 

गौरतलब हो कि इस परियोजना में केन्द्र की 75 फीसदी हिस्सेदारी है जिसे अब केन्द्र सरकार एनटीपीसी को देने की तैयारी कर रही है। 

सोमवार को भागीरथीपुरम में धरने में उत्तराखंड कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष प्रीतम सिंह, नेता प्रतिपक्ष इंदिरा हृदयेश, पूर्व मंत्री मंत्री प्रसाद नैथानी, मातबर सिंह कंडारी, शूरवीर सजवाण, कांग्रेस के सहप्रभारी राजेश धर्माणी, मनीष खंडूरी, सूर्यकांत धस्माना, महिला कांग्रेस की प्रदेश अध्यक्ष सरिता आर्य सहित अन्य कार्यकर्ता मौजूद रहे। 

इस दौरान उपस्थित नेताओं ने टीएचडीसी का एनटीपीसी में विलय करने को बांध प्रभावितों के साथ विश्वासघात बताया। वहीं प्रदेश उपाध्यक्ष सूर्यकांत धस्माना ने टिहरी सांसद पर उपेक्षा का आरोप लगाया। कहा कि टीएचडीसी की लड़ाई को सड़कों पर लड़ा जाएगा।

कांग्रेस का कहना है कि टीएचडीसी प्रदेश की शान और सम्मान है तथा प्रदेश के लोगों ने इसके लिए बड़ी  कुर्बानियां दी है वह किसी भी कीमत पर टीएचडीसी को नहीं बिकने देंगे। पूर्व मंत्री व प्रदेश अध्यक्ष प्रीतम सिंह ने कहा है कि यदि सरकार ने अगर हमारी मांग नहीं मानी तो कांग्रेसी नेता जेल भरो आंदोलन चलायेगें।

Advertisements