ट्रांसपोर्टर प्रकाश पाण्डेय के निधन पर कांग्रेस हुई हमलावार

0
318

-जी.एस.टी. और नोटबंदी के खिलाफ 10 जनवरी को कांग्रेस करेगी पुतला दहन
-प्रकाश पाण्डेय प्रकरण में 11 जनवरी को प्रदेशभर में कांग्रेस का कैण्डिल मार्च

देहरादून । जी.एस.टी. और नोटबंदी के कारण कृषि मंत्री सुबोध उनियाल के जनता दरबार में जहर खाकर आत्महत्या का प्रयास करने वाले प्रकाश पाण्डेय की मृत्यु पर कांग्रेस पार्टी केन्द्र व राज्य सरकार पर हमलावर हो गई है।

पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष प्रीतम सिंहह के नेतृत्व में पार्टी नेताओं ने प्रकाश पाण्डेय की मृत्यु की सूचना मिलते ही पहले मैक्स हास्पिटल जाकर मृतक के परिजनों से मुलाकात की और फिर कांग्रेस मुख्यालय पहुंचकर शोकसभा का आयोजन कर मृतक की आत्म शांति के लिए प्रार्थना की। इस अवसर पर प्रदेश अध्यक्ष प्रीतम सिंह ने राज्य व केन्द्र की भाजपा सरकारों को संवेदनहीन बताते हुए कहा कि कांग्रेस पार्टी दिवंगत प्रकाश पाण्डेय के परिवार के साथ इस दुःख की घडी में पूरी तरह से खड़ी है।

उन्होंने कहा कि जिस जी.एस.टी. व नोटबंदी के कारण प्रकाश पाण्डेय की जान गई है उसका कांग्रेस पार्टी विरोध जारी रखेगी। उन्होंने कहा कि कांग्रेस पार्टी 10 जनवरी को प्रदेश भर में जिला मुख्यालयों पर नोटबंदी व जीएसटी के खिलाफ केन्द्र व राज्य सरकारों का पुतला दहन करेगी तथा 11 जनवरी को दिवंगत प्रकाश पाण्डेय को श्रद्धांजलि देने के लिए सभी जिला व महानगरों में कैण्डिल मार्च आयेाजित करेगी।

कांग्रेस भवन में आयेाजित शोकसभा में पूर्व मंत्री दिनेश अग्रवाल, प्रदेश कांग्रेस उपाध्यक्ष सूर्यकान्त धस्माना, महामंत्री विजय सारस्वत, पूर्व मंत्री डाॅ. संजय पालीवाल, पूर्व विधायक राजकुमार, मनोज तिवारी, महानगर अध्यक्ष पृथ्वीराज चौहान, मुख्य कार्यक्रम समन्वयक राजेन्द्र शाह, पूर्व महानगर अध्यक्ष लालचन्द शर्मा, महामंत्री नवीन जोशी, प्रदेश प्रवक्ता गरिमा दसौनी, राजेश शर्मा, सचिव संजय किशोर, गिरीश पुनेड़ा, राजेश पाण्डेय, भरत शर्मा, नवीन पयाल, राजेश चमोली, महेश जोशी, प्रणीता बडोनी, शांति रावत, सुनित राठौर, मोहन काला, अनुज दत्त शर्मा, श्यामलाल आर्य, यशपाल चैहान, जयेन्द्र रमोला, यामीन अंसारी, पंकज मेसोन, महन्त विनय सारस्वत, शिव मोहन मिश्रा, देवेन्द्र बुटोला, अष्वनी बहुगुणा, सुलेमान अली, धर्म सिह पंवार, दीवान सिंह तोमर, कै0 बलवीर सिंह रावत, रूबी देवी, अनुराधा तिवारी, ताबी खान, शोभाराम, अनूप पासी, चन्दन लाल, कुंवर सिंह यादव, आदि कांग्रेसजन उपस्थित थे।

  • कांग्रेस ने की पीड़ित परिवार को दस लाख की मदद की मांंग 

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता व पूर्व मुख्य मंत्री हरीश रावत के मुख्य प्रवक्ता सुरेन्द्र कुमार ने प्रकाश पांडेय के निधन पर अपनी संवेदना प्रकट करते हुए, उनकी मौत के लिए भा जा पा सरकार को ज़िम्मेदार बताया ट्रांसपोर्टर प्रकाश पांडेय के ज़हर खाने के प्रकरण पर ख़ूब घेरा और कहा की क़र्ज़ से परेशान होकर अब तक लगभग 5-6 व्यक्ति अपनी जान दे चुके हैं ,अब तो सीधे जो बात सामने आई है उसका कारण तो नोट बंदी है,लोग नोट बंदी व जी एस टी से भी दुखी है ,यह साबित भी हो गया की नोट बंदी ने छोटे कारोबारियों की कमर टूटी है ,क़र्ज़ से कई किसानो ने भी अपनी जान दी है ,इस सरकार में लोगों की समस्याओं को बहुत बढ़ाया है ,समाधान के नाम पर तंग किया जा रहा है ,उन्होंने कहा कि सरकार ने उनके इलाज में भी लापरवाही बरती है।

ट्रांसपोर्टर प्रकाश पांडे की मौत की सूचना के बाद हल्द्वानी में भी माहौल गमगीन है। नेता प्रतिपक्ष व स्थानीय विधायक डॉ. इंदिरा हृदयेश ने सीएम त्रिवेंद्र रावत को फोन कर पीड़ित परिवार को तत्काल राहत के तौर पर दस लाख रुपये की सहायता दिए जाने की मांग उठाई। साथ ही प्रकाश की पत्नी कमला पांडे को नौकरी दिए जाने की मांग की। डॉ. इंदिरा हृदयेश ने कहा कि जीएसटी और नोटबंदी से परेशान होकर प्रकाश ने आत्महत्या जैसा कदम मजबूर होकर उठाया है। प्रकाश के दो बच्चों की स्कूल की फीस करीब 22 हजार अभी जमा होनी है।