कोरोना से जंग के लिए सीएम राहत कोष में सहयोग के लिए बढ़ रहे हैं हाथ

0
321

सीएम राहत कोष में संस्थाओं, कर्मचारी, अधिकारी संगठन, सरकारी व गैर सरकारी संस्थाओं के साथ आम नागरिक भी कर रहे सहयोग

मुख्यमंत्री ने कहा, कोरोना से लड़ाई जीतने में सभी का सहयोग जरूरी है

देवभूमि मीडिया ब्यूरो

देहरादून। उत्तराखंड में कोरोना संक्रमण के खिलाफ लड़ाई के लिए सीएम राहत कोष में विभिन्न सरकारी व गैर सरकारी संस्थाएं, आम नागरिक, सरकारी विभाग, संगठन और कर्मचारियों ने योगदान के लिए हाथ बढ़ाए है। मुख्यमंत्री ने सीएम राहत कोष में योगदान देने वालों का आभार व्यक्त करते हुए कहा कि कोरोना वायरस जैसी महामारी से लड़ाई जीतने के लिए सभी का सहयोग जरूरी है। हर व्यक्ति समाज, राज्य और देश के प्रति अपने दायित्व को समझकर किसी भी रूप में योगदान करे तो इससे सामूहिकता के भाव को बल मिलता है।

उत्तराखंड पीसीएस (कार्यकारी शाखा) एसोसिएशन के सभी सदस्यों ने अपने 15 दिन के वेतन की राशि मुख्यमंत्री राहत कोष में दी है। एसोसिएशन ने कोरोना वायरस से निपटने में राज्य सरकार को सहयोग के लिये यह निर्णय लिया है।
पीसीएस एसोसिएशन के सदस्यों ने अपने मार्च 2020 के वेतन में से 15 दिन की वेतन राशि मुख्यमंत्री राहत कोष में जमा कराई है। एसोसिएशन के अध्यक्ष मेजर योगेन्द्र यादव ने मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत से भेंट कर इस संबंध में जानकारी दी।

नगर निगम देहरादून ने 40 लाख रुपये का चेक नगरनिगम बोर्ड फंड से तथा 11लाख रुपये का चेक अधिकारियों एवं कर्मचारियों के वेतन से मुख्यमंत्री राहत कोष के लिए भेंट किया। यह चेक मेयर सुनील उनियाल गामा ने मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत को सौंपा। इस अवसर पर नगर आयुक्त विनय शंकर पांडे भी उपस्थित थे।

भारतीय सेंसर बोर्ड के चेयरमैन एवं भारतीय सिनेमा के गीतकार प्रसून जोशी ने भी मुख्यमंत्री राहत कोष के लिए 10 लाख रुपये प्रदान किए।

उत्तराखंड जनजाति सलाहकार परिषद के उपाध्यक्ष राम कृष्ण सिंह रावत ने कोरोना संकट से निपटने के लिए मुख्यमंत्री राहत कोष में 51 हजार रुपए की सहायता चेक के माध्यम से दी है। रावत ने  51 हजार की राशि पीएम केयर्स फंड में भी दी है।

सहकारिता राज्यमंत्री डॉ. धन सिंह रावत ने उत्तराखंड राज्य सहकारी बैंक एवं जिला सहकारी बैंकों की ओर से अनुदान के रूप में दिए गए एक करोड़ 21 लाख रुपये का चेक मुख्यमंत्री राहत कोष के लिए मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत को सौंपा। वहीं  उत्तराखंड कोऑपरेटिव बैंक के अधिकारियों एवं कर्मचारियों के एक दिन के वेतन का 23 लाख 50 हजार का चेक मुख्यमंत्री राहत कोष के लिए दिया। इस अवसर पर चेयरमैन कोऑपरेटिव बैंक दान सिंह रावत, सचिव सहकारिता आर मीनाक्षी सुंदरम, रजिस्टार को ऑपरेटिव बैंक बाल मयंक मिश्रा तथा एमडी कोऑपरेटिव बैंक दीपक कुमार उपस्थित थे ।

श्रीकोट श्रीनगर निवासी सुनीता गैरोला पत्नी प्रकाश गैरोला ने मुख्यमंत्री राहत कोष के लिए 50 हजार रुपये का चेक दिया। उत्तराखंड सचिवालय बैडमिंटन क्लब ने भी मुख्यमंत्री राहत कोष के लिए 50 हजार रुपये का चेक प्रदान किया।