देहरादून : रुद्रपुर में दलित महिलाओं के साथ अभद्रता और मारपीट मामले में भाजपा प्रदेश अध्यक्ष अजय भट्ट ने वहां के  विधायक राजकुमार ठुकराल को मारपीट के आरोप को निराधार बताते हुए और महिलाओं से कोई मारपीट न होने की बात कहते हुए क्लीन चिट दे दी गयी है ।

गुरुवार को भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष अजय भट्ट ने यमुना कालोनी स्थित अपने आवास में मीडिया से बातचीत में कहा कि विधायक ठुकराल पर लगाए गए मारपीट के आरोप जांच के बाद निराधार पाए गए हैं। उन्होंने कहा रुद्रपुर विधायक ठुकराल ने दलित महिलाओं से किसी भी तरह की कोई मारपीट नहीं की थी, बल्कि ठुकराल ने महिलाओं के आपसी झगड़े को शांत कराया था।जिसका वीडियो बनाकर ठुकराल के किसी विरोधी ने वायरल इसलिए किया ताकि विधायक की छवि ख़राब हो जाए।  

गौरतलब हो कि बीते महीने रुद्रपुर विधायक ठुकराल पर दलित महिलाओं के साथ मारपीट और अभद्रता के आरोप लगे थे।जिसके  बाद घटना का कथित वीडियो वायरल होने पर भाजपा प्रदेश अध्यक्ष अजय भट्ट ने विधायक ठुकराल को नोटिस भेजकर जबाव मांगा था। गुरुवार को विधायक ठुकराल भाजपा सह मीडिया प्रभारी बलजीत सोनी के साथ बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष के यमुना कॉलोनी स्थित आवास पर पहुंचे और उन्होंने पार्टी अध्यक्ष को मामले से सम्बंधित छह पेज का जबाव दिया।

पार्टी अध्यक्ष को दिए जवाब में विधायक ठुकराल ने कहा कि उन पर लगाए गए दलित महिलाओं से मारपीट के आरोप पूरी तरह निराधार हैं। उन्होंने कहा कि कुछ लोग उनके खिलाफ षड़यंत्र रच रहे हैं और इसी के तहत वीडियो वायरल किया गया। ठुकराल का जवाब मिलने के बाद मीडिया से बातचीत में भट्ट ने कहा कि विधायक ने जो सुबूत पेश किए हैं उससे साफ हो रहा है कि किसी महिला के साथ मारपीट नहीं हुई है। इसके बाद अब पार्टी अध्यक्ष द्वारा ठुकराल को पूर्व में जारी नोटिस को निरस्त करने की प्रक्रिया शुरू की जा रही है।

Advertisements