देहरादून :  राजधानी से कुछ ही किलोमीटर दूर है सिल्ला गांव आज तक कोई भी मुख्यमंत्री इस गांव नहीं पहुंचा लेकिन शनिवार को मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत गाँव वालों की सुध ही नहीं ली बल्कि भूस्खलन से प्रभावित सिल्ला गांव का निरीक्षण भी  किया।

इस मौके पर मुख्यमंत्री ने प्रभावित सभी नौ परिवारों को प्रति परिवार एक लाख एक हजार नौ सौ रूपये की धनराशि के चैक भी प्रदान किए। वहीँ मुख्यमंत्री रावत ने जिलाधिकारी देहरादून को 24 घण्टे के भीतर प्रभावित गांव के पुर्नवास की रिपोर्ट तथा कृषि हानि का आकलन तैयार करने के साथ ही प्रभावितों के विस्थापन की योजना बनाने के निर्देश दिए ।

मुख्यमंत्री  त्रिवेन्द्र रावत ने जिलाधिकारी समेत सम्बन्धित अधिकारियों को निर्देश दिए है कि इस प्रभावित क्षेत्र की यातायात सम्पर्क मार्ग तथा कनेक्टिविटी को शीघ्र  से शीघ्र सुचारू करने के साथ ही  सरखेत में नदी की तटबंध व्यवस्था को दुरूस्त करने के निर्देश दिए ताकि नदी का बहाव ग्रामीण क्षेत्र को हानि न पहुंचा सके।

पैदल मार्ग से अधिकारियो के साथ सिल्ला गांव पहुंच कर निरीक्षण के दौरान मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र ने बुर्जुगों, बच्चों, महिलाओं तथा लगभग प्रत्येक ग्रामीण से उनके खाने-पीने, राशन, कपडे़, रहने की व्यवस्था आदि की जानकारी ली। ग्रामीणों ने बताया कि उन्हें फूड पैकेटस समय से उपलब्ध करवा दिए गए हैं  तथा वह लोग फिलहाल अपने सम्बधियो के घरों में रह रहे है तथा प्रशासन की ओर से उन्हें सहायता प्राप्त हो रही है।

मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र रावत ने उपस्थित लोगों  से कहा कि यह अत्यन्त दुख की बात है कि हाल ही की भारी वर्षा तथा भूस्खलन से  गांव में पशु तथा भवनों की हानि हुई है परन्तु यह संतोष की बात है कि कोई जन हानि नही हुई है। राज्य सरकार पूरी तरह से पीड़ितों के साथ है तथा प्रभावितों की पूरी मदद करेगी। निरीक्षण  के दौरान मुख्यमंत्री के साथ विधायक गणेश जोशी भी थे।  

Advertisements