मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने पौड़ी में किया विभिन्न विकास योजनाओं का शिलान्यास एवं लोकार्पण

0
185
  •  गढ़वाल कमिश्नरी के 50 वर्ष पूर्ण होने पर सभी को दी बधाई

  • राज्य के विकास में बनें सहभागी- लौटें अपने गाँवों की ओर

  •  लोक संस्कृति एवं लोकभाषा को दिया जाएगा बढ़ावा

  •  महिला सशक्तिकरण की दिशा में की जा रही है प्रभावी पहल

सीएम ने किया 1769.70 लाख की योजनाओं का शिलान्यास एवं लोकार्पण

देवभूमि मीडिया ब्यूरो

पौड़ी : गढ़वाल कमिश्नरी की स्वर्ण जयंती समारोह “सुनैरू गढवाल“ के अवसर पर मुख्यमंत्री श्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने  कुल 1769.70 लाख की योजनाओं का शिलान्यास एवं लोकार्पण किया जिसमें 1493.72 लाख की सड़क व अन्य योजनाओं का शिलान्यास तथा 275.98 लाख की सड़क व नहरों के पुनरूद्धार की योजनाओं का लोकार्पण सम्मिलित है। 

मुख्यमंत्री ने जिन योजनाओं का शिलान्यास किया उनमें राज्य योजना के अन्तर्गत 3.50 कि.मी. भवन्यू-कोलड़ी-जसपुर से श्रीकोट तक मोटर मार्ग, 4.75 कि.मी घोड़ीखाल बैण्ड से पालसैण अनुसूचित जाति बस्ती भीमली तल्ली रैदुल आलधार तक मोटर मार्ग, 5.00 कि.मी ग्राम पंचायत बोरिक के अम्बेडकर ग्राम बकरोली से मुण्डेनेश्वर तक मोटर मार्ग, 15.00 कि.मी मरचूला-सराईखेत-बैजरों-पोखड़ा-सतपुली-पौड़ी मोटर मार्ग में पी.सी. का कार्य के अन्तर्गत, टिहरी हिण्डौलाखाल, 15.00 कि.मी देवप्रयाग व्यासघाट बिलखेत मोटर मार्ग से पी.सी. द्वारा नवीनीकरण योजना के अन्तर्गत, 3.50 कि.मी पौड़ी खौलाचौंरी मोटर मार्ग से एस.डी.बी.सी. द्वारा नवीनीकरण हेतु, खिर्सू क्षेत्र में पर्यटन गतिविधियों को बढ़ावा देने हेतु इको पार्क एवं होम स्टे कार्य तथा पर्यटन विभाग से सतपुली क्षेत्र में पर्यटन गतिविधियों को विकसित करने हेतु एंगलिंग/होम स्टे मॉडल की कार्य योजना शामिल हैं।

जबकि लोकार्पण की गई योजनाओं में 4.00 कि.मी मरचूला-सराईखेत-बैजरौं-पोखड़ा-सतपुली-पौड़ी मोटर मार्ग, जनपद पौड़ी गढ़वाल के विकास खण्ड पोखड़ा के अन्तर्गत 05 पर्वतीय नहरों तथा जनपद पौड़ी गढ़वाल के विकास खण्ड एकेश्वर के अन्तर्गत 05 पर्वतीय नहरों की पुनरूद्धार योजना शामिल हैं।

कक्षा एक  से पांच तक के लिए गढ़वाली पाठ्य पुस्तकों का हुआ लोकार्पण

मुख्यमंत्री  त्रिवेंद्र सिंह रावत ने गढ़वाल मंडल की स्वर्ण जयंती के अवसर पर कक्षा 1 से 5 तक के लिए गढ़वाली पाठ्य पुस्तकों का भी लोकार्पण किया। उत्तराखण्ड राज्य में कक्षा 1 से 5 तक के पाठयक्रम में क्रमशः  धगुली, हंसुली, छुड़की, पैजबि एवं झुमकी को शामिल किया गया है। मुख्यमंत्री ने आंगनवाड़ी में पढ़ रहे बच्चों को दूध पिलाकर मुख्यमंत्री अमृत आंचल योजना का भी शुभारंभ किया। इस योजना से प्रदेश भर में 1 लाख 66 हज़ार बच्चे लाभान्वित होंगे।

सीएम ने दी गढ़वाल कमिश्नरी के 50 वर्ष पूर्ण होने पर बधाई

मुख्यमंत्री ने कहा कि यह हम सभी के लिए हर्ष की बात है। इस कार्यक्रम के आयोजन का उद्देश्य प्रदेश व प्रदेशवासियों के भविष्य को संवारना है। इसके लिए गढ़वाल कमिश्नरी की स्वर्ण जयंती के अवसर पर कैबिनेट का आयोजन किया गया है। उन्होंने कहा कि टिहरी झील में भी कैबिनेट एवं लेक महोत्सव का आयोजन किया गया था, जिसके बहुत अच्छे परिणाम निकले। आज टिहरी में पर्यटकों की संख्या बढ़ी है। 
मुख्यमंत्री ने कहा कि हमारी सोच विकास केंद्रित होनी चाहिए। हमे आम आदमी के खरीदने की क्षमता को बढ़ाना है, तभी राज्य का विकास संभव है। स्वरोजगार से जुड़कर अपने देश के व प्रदेश के विकास में अपना योगदान देना होगा। इस अवसर पर मुख्यमंत्री ने नन्दा गौरा योजना के तहत विभिन्न बालिकाओं को 51 हज़ार से 5 हजार तक के चैक भी वितरित किए।

प्रवासी बनें राज्य के विकास में सहभागी ,लौटें गाँव की ओर

मुख्यमंत्री ने प्रदेश के बाहर रहा रहे उत्तराखण्ड के लोगों को प्रदेश में वापस लौटने का आह्वान करते हुए कहा कि इससे हमारे प्रदेश की अर्थव्यवस्था पर बहुत अच्छा प्रभाव पड़ेगा। उन्होंने कहा कि स्थानीय कृषि, बागवानी  और  रेशे भी रोजगार के क्षेत्र में महत्वपूर्ण भूमिका निभा सकते हैं। इस अवसर पर विभिन्न अधिकारियों व कर्मचारियों को भी उत्कृष्ट कार्य करने के लिए सम्मानित किया गया। इसके साथ ही जनपद पौड़ी गढ़वाल में किसानों एवं महिलाओं को जीरो प्रतिशत ब्याज पर रु0 5 लाख तक का ऋण उपलब्ध कराने हेतु योजना के अंतर्गत विभिन्न महिला स्वयं सहायता समूहों को ऋण के चेक वितरित किये गये। मुख्यमंत्री ने औद्योगिक विकास की सम्भावनाओं व कृषि व औद्यानिकी पर पुस्तिकाओ का लोकार्पण भी किया। 

महिला स्वयं सहायता समूहों को बिना ब्याज के 5 लाख रूपये तक का ऋण

इस अवसर पर सहकारिता व उच्च शिक्षा राज्य मंत्री डॉ धनसिंह रावत ने कहा कि राज्य सरकार ने पलायन को रोकने, ग्रामीण विकास व महिला सशक्तिकरण के लिए महत्वपूर्ण पहल की हैं। सहकारिता के तहत महिला स्वयं सहायता समूहों को बिना ब्याज के 5 लाख रूपये तक का ऋण ऐसी ही महत्वपूर्ण योजना है।

सांसद श्री तीरथ सिंह रावत ने उत्तराखंड में पलायन को रोकने के लिए गम्भीरता से मंथन किया जा रहा है। आयुष्मान योजना स्वास्थ्य के क्षेत्र में बङी पहल है।

इस अवसर पर  विधायक श्री दिलीप सिंह रावत, श्री मुकेश कोली, नगर पालिका अध्यक्ष श्री यशपाल बेनाम, प्रसिद्ध लोक कलाकार श्री नरेन्द्र सिंह नेगी,  आयुक्त गढवाल डॉ बीवीआरसी पुरुषोत्तम सहित जनप्रतिनिधि, अधिकारी व जनसामान्य उपस्थित थे।