दीक्षांत समारोह में दिए सम्बोधन में काट-छांट कर सोशल मीडिया में किया था वायरल

वीडियो एडिट कर वायरल करने का पौड़ी के आयुष कुकरेती पर आरोप

देहरादून : आइआइटी रुड़की के दीक्षा समारोह में दिए गए मुख्यमंत्री के भाषण के वीडियो के साथ छेड़छाड़ कर वायरल करने के मामले में नेहरू कॉलोनी पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर लिया है। आरोप है कि वीडियो को एडिट कर काट-छांट किया गया है और फिर उसे सोशल मीडिया पर वायरल कर दिखाया गया कि सीएम ने समारोह के मुख्य अतिथि को श्रीमती कह कर संबोधित किया, जबकि वादी का कहना है कि सीएम ने श्रीमती का संबोधन राष्ट्रपति की पत्नी के लिए किया था।

अनिल कुमार पांडेय निवासी बैंक कॉलोनी अजबपुर कला की ओर नेहरू कॉलोनी थाने में इस संबंध में तहरीर दी गई है। जिस पर पुलिस ने आइटी एक्ट के तहत मुकदमा दर्ज किया है। उनका आरोप है कि गत दिनों आइआइटी रुड़की के दीक्षा समारोह में राष्ट्रपति रामनाथ को¨वद बतौर मुख्य अतिथि शामिल हुए थे। समारोह में उत्तराखंड के सीएम त्रिवेंद्र सिंह रावत ने भी संबोधित किया।

मुख्यमंत्री के इस संबोधन के वीडियो को पौड़ी गढ़वाल निवासी आयुष कुकरेती ने वायरल किया। वायरल करने से पहले वीडियो को एडिट किया गया और कांट-छांट कर यह दिखाया गया कि मुख्यमंत्री राष्ट्रपति को श्रीमती कह कर संबोधित कर रहे हैं। अनिल कुमार पांडेय का कहना है कि मूल वीडियो देखने से पता चलता है कि सीएम ने श्रीमती का संबोधन राष्ट्रपति की पत्नी के लिए किया था। आयुष ने इस कृत्य से राष्ट्रपति और आइआइटी जैसे विश्वविख्यात संस्थान की प्रतिष्ठा को गहरा आघात पहुंचाया है।

मामले में एसपी सिटी श्वेता चौबे ने बताया कि इस मामले में मुकदमा दर्ज कर विवेचना कैंट इंस्पेक्टर नदीम अतहर को सौंपी गई है। वहीं वीडियो की एडीटिंग की पुष्टि के लिए जल्द ही मूल वीडियो और एडिट वीडियो जांच के लिए एफएसएल भेजा जाएगा।

Advertisements