ऋषिकेश में फर्जी वीडियो डालने पर एक व्यक्ति हुआ गिरफ्तार

0
997

लखनऊ में हुए मॉक ड्रिल की वीडियो को ऋषिकेश की बता कर वायरल करने पर ऋषिकेश के एक युवक को पुलिस ने किया गिरफ्तार 

वीडियो को जानने से पहले जांच लें उसकी सच्चाई  : पुलिस 

देवभूमि मीडिया ब्यूरो 

ऋषिकेश: उत्तर प्रदेश के पुलिस मॉक ड्रिल का वीडियो ऋषिकेश नटराज चौक का बताकर सोशल मीडिया में वायरल करने पर ऋषिकेश के एक युवक को पुलिस ने गिरफ्तार किया है।

ऋषिकेश पुलिस को पता चला कि एक व्यक्ति जिसने उत्तर प्रदेश के मॉक ड्रिल की वीडियो को सोशल मीडिया में डालकर घटना को ऋषिकेश के नटराज चौक का होना बताकर करोना वायरस के पीड़ित की झूठी वीडियो तमाम सोशल मीडिया पर प्रसारित किया था।  पुलिस ने तत्परता दिखाते हुए फर्जी वीडियो डालने वाले व्यक्ति को गिरफ्तार कर उसके खिलाफ मुकदमा पंजीकृत कर दिया है।  

पुलिस कोतवाल रितेश शाह से मिली जानकारी के अनुसार सोशल मीडिया पर एक वीडियो शेयर की गई जोकि उत्तर प्रदेश की एक मॉडल थी। परंतु ऋषिकेश निवासी  व्यक्ति मनोज कुमार पुत्र स्वर्गीय श्री सुरेश चंद शर्मा निवासी मकान नंबर 36 तनीषा टावर नेहरू ग्राम इंदिरा नगर हार्ड वाली गली ऋषिकेश को सोशल मीडिया पर नटराज चौक में करोना पीड़ित के होने की सूचना के नाम से डाला गया। एवं ऋषिकेश शहर में करोना वायरस के पीड़ित के संबंध में झूठी सूचना प्रसारित की की गई।जिसको कई लोगों द्वारा शेयर किया गया।

 प्रभारी निरीक्षक कोतवाली ऋषिकेश महोदय के द्वारा तत्काल उक्त व्यक्ति की गिरफ्तारी हेतु टीम गठित की गई। जिस पर उक्त व्यक्ति को तत्काल गिरफ्तार कर लिया गया है। उक्त व्यक्ति के विरुद्ध कोतवाली ऋषिकेश में संबंधित धाराओं में मुकदमा पंजीकृत किया जा रहा है। पुलिस के अनुसार उक्त व्यक्ति को समय से माननीय न्यायालय के समक्ष रविवार को पेश किया जाएगा।

वहीं ऋषिकेश कोतवाल ने जनता से पुलिस की अपील है कि किसी भी वीडियो को जानने से पहले उसकी सच्चाई जांच लें। उन्होंने कहा कि आपके द्वारा सोशल मीडिया पर डाली जाने वाली वीडियो यदि गलत पाई जाएगी, तो ग्रुप एडमिन व उक्त व्यक्ति के विरुद्ध तत्काल मुकदमा पंजीकृत कर कार्रवाई की जाएगी।