भाजपा से निलम्बित हुए लाखी राम जोशी, नोटिस जारी

0
388

कार्यकर्त्ता को चाहे वह कितना भी बड़ा क्यों न हो, को अनुशासन हीनता के मामले में कोई रियायत नहीं : प्रदेश अध्यक्ष 

उत्तर न मिलने अथवा उनका उत्तर संतोषजनक न पाए जाने पर पार्टी से निकाला भी जा सकता है

देवभूमि मीडिया ब्यूरो 
देहरादून । भाजपा प्रदेश अध्यक्ष श्री बंशी धर भगत ने पूर्व भाजपा विधायक व मंत्री रहे श्री लाखी राम जोशी के ख़िलाफ़ अनुशासनात्मक कार्यवाही करते हुए उन्हें पार्टी से निलम्बित कर दिया है, साथ ही श्री जोशी को उनके द्वारा लिखे गए एक पत्र के सम्बंध में की गई इस कार्यवाही के अंतर्गत उन्हें नोटिस दे कर उन्हें सात दिन में उत्तर देने के लिए भी कहा गया है। उत्तर न मिलने अथवा उनका उत्तर संतोषजनक न पाए जाने पर उन्हें पार्टी से निकाला भी जा सकता है।
प्रदेश अध्यक्ष श्री भगत ने कहा कि पार्टी में अनुशासन सबसे महत्वपूर्ण विषयों में से है। अतः किसी भी कार्यकर्त्ता को चाहे वह कितना भी बड़ा क्यों न हो, को अनुशासन हीनता के मामले में कोई रियायत नहीं दी जा सकती । यदि किसी के मन में कोई विषय है तो वे सीधा उनसे कहें । वे उस विषय को उचित स्तर पर ले जाएँगे। लेकिन अनुशासनहीनता किसी भी स्थिति में स्वीकार नहीं की जा सकती ।