भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा दिल्ली से 17 अक्टूबर को करेंगे प्रदेश कार्यालय का शिलान्यास

0
240

प्रदेश अध्यक्ष व मुख्यमंत्री देहरादून आयोजन में रहेंगे उपस्थित

कार्यालय विधानसभा चुनाव से पहले पूरा कर लिया जाएगा : बंशीधर भगत 

देवभूमि मीडिया ब्यूरो
देहरादून। भारतीय जनता पार्टी के नए प्रदेश कार्यालय का भूमि पूजन व शिलान्यास भाजपा राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री जेपी नड्डा 17 अक्टूबर को दिल्ली से वर्चुअल माध्यम से करेंगे। देहरादून में कार्यालय निर्माण स्थल पर आयोजित समारोह की अध्यक्षता भाजपा प्रदेश अध्यक्ष बंशीधर भगत द्वारा की जाएगी और मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत की कार्यक्रम में गरिमामय उपस्थिति रहेगी।
यह जानकारी देते हुये भाजपा प्रदेश कार्यालय ने बताया कि भाजपा उत्तराखंड का नया प्रदेश कार्यालय देहरादून में आउटर रिंग रोड पर बनाया जाना है। इस कार्यालय के भवन निर्माण का भूमि पूजन व शिलान्यास भाजपा राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा 17 अक्टूबर को प्रातः 10.30 दिल्ली से वर्चुअल माध्यम द्वारा करेंगे। इस अवसर पर दिल्ली में उनके साथ केंद्र सरकार के मंत्री, सांसद व अन्य पार्टी पदाधिकारी उपस्थित रहेंगे। देहरादून में निर्माण स्थल पर होने वाले कार्यक्रम की अध्यक्षता भाजपा प्रदेश अध्यक्ष बंशीधर भगत अध्यक्षता करेंगे और मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत की गरिमामई उपस्थिति रहेगी। कार्यक्रम में प्रदेश महामंत्री संगठन अजय कुमार महामंत्री राजू भंडारी कुलदीप कुमार प्रदेश पदाधिकारी, सभी पूर्व प्रदेश अध्यक्ष, जिलाध्यक्ष, सांसद,विधायक व दायित्वधारी शामिल होंगे।      
उन्होंने बताया कि यह कार्यालय करीब 3 एकड़ भूमि पर बन रहा है और इसकी वास्तु कला पर्वतीय वास्तु कला के आधार पर तैयार की गई है इस कार्यालय में सभी आधुनिक सुविधाएं व तकनीकी तकनीकी उपकरण रहेंगे। जहां इसमें पदाधिकारियों के कार्यालयों का निर्माण किया जाएगा वहीं एक बड़ा सभाकक्ष भी तैयार होगा। संवाद की दृष्टि से सभी आवश्यक आधुनिक सुविधाएँ कार्यालय में होंगी। जैसा कि प्रदेश अध्यक्ष बंशीधर भगत ने आशा व्यक्त की है कि यह कार्यालय विधानसभा चुनाव से पहले पूरा कर लिया जाएगा।
प्रदेश भाजपा के नेताओं का कहना है कि यह कार्यालय उत्तराखंड में पार्टी की संगठनात्मक दृष्टि से एक बड़ी उपलब्धि होगी। क्योंकि वर्तमान में पार्टी के हो रहे लगातार विस्तार व बढ़ रहे कार्य के साथ तकनीक में हो रहे परिवर्तनों को ध्यान में रखते हुए नई तकनीक व आधुनिक सुविधाओ से युक्त बड़े कार्यालय की आवश्यकता महसूस की जा रही थी ।अब इसका श्री गणेश किया जा रहा है।