पार्टी ने नैनीताल को छोड़ बाकि मंडल अध्यक्षों की घोषणा की

देवभूमि मीडिया ब्यूरो 

देहरादून । उत्तराखण्ड भाजपा ने मंडल अध्यक्षों की घोषणा कर दी। इन दिनों बीजेपी में संगठन के चुनाव का घमासान चल रहा है। तमाम पार्टी कार्यकर्ता नई जिम्मेदारी मिलने की आस लगाए हुए हैं। भाजपा में नए प्रदेश अध्यक्ष को लेकर अभी से कई तरह की कयासबाजियां लगाई जा रहा है।

गौरतलब हो कि 15 दिसंबर को बीजेपी प्रदेश अधयक्ष अजय भट्ट का कार्यकाल भी पूरा होने जा है। ऐसे में नए प्रदेश अध्यक्ष को लेकर पार्टी में अंदरूनी कवायद तेज हो गई है। फिलहाल मंडल के चुनाव हो रहे हैं, जिसमें पहले चरण में ब्लॉक स्तर पर और दूसरे चरण में मंडल स्तर के चुनाव होंगे। जिसके बाद दिसंबर माह में प्रदेश अध्यक्ष के चुनाव फाइनल हो जाएंगे।

बता दें कि आगामी 15 दिसंबर को बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष अजय भट्ट का कार्यकाल खत्म होने जा रहा है। हांलाकि अजय भट्ट अब लोकसभा सांसद भी हैं। जिसे देखते हुए माना जा रहा है कि उन्हें प्रदेश अध्य्क्ष पद की जिम्मेदारियों से मुक्त किया जा सकता हैं। जिसके बाद किसी नए पार्टी सदस्य को प्रदेश अध्यक्ष की जिम्मेदारी दी जा सकती है।

भले ही संघठनात्मक चुनाव बीजेपी का अंदरूनी मामला हो लेकिन भाजपा के संघठनात्मक चुनाव पर विपक्षी पार्टी के नेता भी जमकर चुटकी ले रहे हैं। गौरतलब है कि उत्तराखंड भाजपा ने रविवार को मंडल अध्यक्षों की घोषणा कर दी है। 5 दिसंबर तक सभी जिला अध्यक्ष 15 दिसंबर से पहले उत्तराखंड में बीजेपी का नया अध्यक्ष चुन लिया जाएगा।

वहीं उत्तराखंड बीजेपी ने रविवार को प्रदेश के नैनीताल जिले को छोड़कर सभी जिलों के लिए मंडल अध्यक्षों की घोषणा कर दी है। तो वहीं मंडल अध्यक्ष निर्वाचन के बाद 5 दिसंबर तक जिला अध्यक्षों के चुनाव संपन्न हो जाएंगे। इसके बाद 15 दिसंबर तक प्रदेश अध्यक्ष चुनाव प्रक्रिया भी पूरी कर ली जाएगी। 

Advertisements