बदरीनाथ धाम के कपाट अब 30 अप्रैल की जगह 15 मई 2020 को प्रातः 4:30 बजे खुलेंगे

0
930

गाडु घड़ा परंपरा के लिए तिल का तेल निकालने के लिए 5 मई की तिथि हुई निर्धारित 

 केदारनाथ धाम के कपाट 14 मई को खोले जाएंगे, लेकिन धाम के कपाट खोलने को लेकर अभी भी है संशय बरकरार 

सुनिए टिहरी के महाराजा श्री मनुजेंद्र शाह जी से फोन पर मुख्यमंत्री श्री त्रिवेंद्र रावत की बातचीत ….

देवभूमि मीडिया ब्यूरो 

देहरादून : भगवान बदरीनाथ के कपाट अब 30 अप्रैल के स्थान पर 15 मई 2020 को प्रातः 4:30 बजे खुलेंगे। वहीं गाडु घड़ा परंपरा के लिए तिल का तेल निकालने के लिए 5 मई 2020 की तिथि तय की गई है। सोमवार को टिहरी के राजा श्री मनुजेंद्र शाह ने इसकी घोषणा की।

इसी क्रम में मुख्यमंत्री आवास में सोमवार को श्री बदरीनाथ एवं श्री केदारनाथ के संबंध में बैठक की गई। बैठक में टिहरी की महारानी एवं सांसद श्रीमती माला राज्य लक्ष्मी शाह, पर्यटन मंत्री श्री सतपाल महाराज, मुख्य सचिव श्री उत्पल कुमार सिंह, डीजीपी श्री अनिल कुमार रतूड़ी एवं सचिव पर्यटन श्री दिलीप जावलकर उपस्थित थे। 

मुख्यमंत्री ने कहा कि कोविड-19 की परिस्थितियों को देखते हुए भारत सरकार के दिशा-निर्देशों का पालन सुनिश्चित किया जाना है। भगवान केदारनाथ के कपाट खुलने के संबंध में भी चर्चा की गई। बैठक में तय किया गया कि धार्मिक परम्परानुसार संबंधित धर्माचार्यों द्वारा भगवान केदारनाथ के कपाट खुलने का दिन एवं समय निर्धारित किया गया।